ट्विटर ने सबसे पहले भारत में शुरू की कर्मचारियों की छंटनी‚ मार्केटिंग और कम्युनिकेशन विभाग बर्खास्त

नई दिल्ली: एलन मस्क के आदेश के बाद ट्विटर ने शुक्रवार को कर्मचारियों की छंटनी शुरू कर दी है। चिंता की बात यह है कि इसकी शुरूआत भारत से की गई है। बताया जा रहा है कि ट्विटर ने भारत में मार्केटिंग और कम्युनिकेशन विभाग को पूरी तरह से बर्खास्त कर दिया है।   कर्मचारियों की संख्या में कटौती से इंजीनियरों सहित कंपन में अन्य सभी कार्यक्षेत्रों में काम करने वाले इससे प्रभावित हुए हैं.

ट्वीटर कार्यालय

बताया जा रहा है कि नए मालिक एलोन मस्क द्वारा ट्विटर की आर्थिक स्थिति को ठीक करने और 44 बिलियन डॉलर के इसके अधिग्रहण को व्यवहारिक बनाने के लिए दुनिया भर में कर्मचारियों की संख्या में कटौती की है.

दुनिया के सबसे अमीर व्यवसायी मस्क ने पिछले हफ्ते ट्विटर के सीईओ पराग अग्रवाल के साथ-साथ मुख्य वित्तीय अधिकारी और कुछ अन्य शीर्ष अधिकारियों को निकालकर अपनी पारी की शुरुआत की थी.

ट्विटर ने वैश्विक स्तर पर कंपनी के कार्यबल में कमी करने की योजना के तहत भारत में भी कर्मचारियों की छंटनी शुरू कर दी है. दुनिया के सबसे धनी कारोबारी एलन मस्क ने पिछले हफ्ते ट्विटर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी (CEO) पराग अग्रवाल के साथ ही मुख्य वित्त अधिकारी (CFO) और कुछ अन्य शीर्ष अधिकारियों को निकाल दिया था. उन्होंने ट्विटर का अधिग्रहण करने के तुरंत बाद ऐसा किया. इसके बाद कंपनी के शीर्ष प्रबंधन के कई लोगों ने इस्तीफा दिया.

एलोन मस्क ने अब कंपनी के वैश्विक कार्यबल को कम करने के लिए बड़े पैमाने पर छंटनी शुरू की है. ट्विटर इंडिया के एक कर्मचारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर पीटीआई-भाषा को बताया, “छंटनी शुरू हो गई है. मेरे कुछ सहयोगियों को इस बारे में ईमेल से सूचना मिली है.”

एक अन्य सूत्र ने कहा कि छंटनी ने भारतीय टीम के ‘महत्वपूर्ण हिस्से’ को प्रभावित किया है. हालांकि, अभी छंटनी का पूरा ब्योरा नहीं मिला है. ट्विटर इंडिया ने इस संबंध में ईमेल के जरिए किए गए सवालों का जवाब खबर लिखे जाने तक नहीं दिया था.

मस्क के ट्विटर के अधिग्रहण से पहले ही इस तरह की चर्चा थी कि वह सोशल मीडिया कंपनी में कर्मचारियों की संख्या में कटौती करेंगे. कुछ खबरों में तो यहां तक कहा गया है कि वह कर्मचारियों की संख्या में 75 प्रतिशत की कमी करेंगे.

अमेरिका स्थित सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर ने पहले कर्मचारियों को एक आंतरिक ईमेल में कहा था, “ट्विटर को रास्ते पर लाने के प्रयास में हम शुक्रवार को अपने वैश्विक कार्यबल को कम करने की कठिन प्रक्रिया से गुजरेंगे. सभी को एक व्यक्तिगत ईमेल प्राप्त होगा.”

कंपनी कर्मचारियों की सुरक्षा के साथ-साथ ट्विटर सिस्टम और ग्राहक डेटा के लिए सभी कार्यालयों को अस्थायी रूप से बंद कर देगी. ट्विटर ने कहा था, ‘अगर आप ऑफिस में हैं या ऑफिस जा रहे हैं तो कृपया घर लौट आएं.’