दावाǃ भारत में 2030 तक इतना बढ़ेगा तापमान‚ सहन नही कर पाएंगे इंसान

जल्द बढ़ेगा भारत का तापमान

तिरुवनंतपुरम: जलवायु परिवर्तन के चलते पृथ्वी का तापमान लगातार बढ़ रहा है।  जो बेहद चिंताजनक बात है। इसको लेकर अब विश्व बैंक ने अपनी रिपोर्ट जारी की है।  रिपोर्ट में दावा किया गया है कि आने वाले कुछ सालों में भारत में इतनी गर्मी पड़ेगी कि इंसान उसे सहन नही कर पाएगा।

गर्मी के कारण उत्पन्न हुए तनाव से संबंधित उत्पादकता में गिरावट आएगी जिसके चलते दुनिया भर में लगभग 8 करोड़ नौकरियां जाने का अनुमान है।  दावा किया जा रहा है कि इनमें से 3.4 करोड़ नौकरियां अकेले भारत में ही चली जाएंगी।

आपको बता दें कि भारत में पिछले कुछ सालों में हजारों लोगों की मौत लू के कारण हुई है जो एक चिंताजनक है।  रिपोर्ट में दावा किया गया है कि 2030 तक भारत ऐसी भीषण गर्म हवाओं का सामना करेगा जो इंसान की बर्दाश्त सीमा से बाहर होगी।  शीतलन क्षेत्र में जलवायु निवेश के अवसर शीर्षक वाली रिपोर्ट में बताया गया है कि वर्तमान में देश अपेक्षाकृत ज्यादा गर्मी का सामना कर रहा है। 

सरकार ने शुरू की खास योजना‚ अब घर-घर जाकर बनाए जाएंगे आधार कार्ड

अकसर गर्मी जल्द शुरू हो जाती है और ज्यादा समय तक रहती है।  रिपोर्ट में कहा गया है कि अप्रैल 2022 में भारत समय से पहले लू की चपेट में आ गया था जिससे आम जनजीवन ठहर सा गया था।  राजधानी नई दिल्ली में तो तापमान 46 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। पिछले साल मार्च महीना तापमान में अप्रत्याशित वृद्धि का गवाह बना था और यह इतिहास का सबसे गर्म मार्च महीना बनकर सामने आया था।

आपको बता दें कि यह रिपोर्ट तिरुवनंतपुरम में केरल सरकार के साथ साझेदारी में विश्व बैंक द्वारा आयोजित दो दिवसीय ‘भारत जलवायु एवं विकास साझेदारों’ की बैठक में जारी की जाएगी।

रिपोर्ट में आशंका जताई गई है कि भारत में जल्द लू की तीव्रता उस सीमा को पार कर जाएगी, जो इंसान के बर्दाश्त करने के योग्य है। इसमें कहा गया है, “अगस्त 2021 में जलवायु परिवर्तन पर अंतर-सरकारी पैनल (आईपीसीसी) की छठी आंकलन रिपोर्ट में चेतावनी दी गई थी कि भारतीय उपमहाद्वीप में आने वाले दशक में भीषण लू चलने के अधिक मामले सामने आएंगे।