NDTV छोड़ने के बाद रवीश कुमार का Youtube पर जलवा‚ एक ही दिन में डेढ़ मिलियन लोगों ने सब्सक्राइब किया चैनल

रवीश् कुमार

New Delhi:  अडाणी ग्रुप का कब्जा होने के बाद एनडीटीवी से इस्तीफा देने वालों की लाईन लगी हुई है। एक दिसंबर को जहां NDTV के चेयरपर्सन प्रणय रॉय और उनकी पत्नी राधिका रॉय ने आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड से इस्तीफा दे दिया। वहीं इसके कुछ घंटे बाद ही चैनल के सबसे चर्चित पत्रकार और स्टार एंकर रवीश कुमार ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

रवीश कुमार अब अपने यू-ट्यूब चैनल पर एक्टिव हो गए हैं। उन्होने ravish kumar official youtube channel बनाया है।  खास बात यह है कि NDTV छोड़ने के एक दिन बाद ही करीब डेढ़ मिलियन लोगों ने उनके यू-ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब कर लिया है। यह खबर उनके विरोधियों के लिए किस बड़े झटके से कम नही है।

सोशल मीडिया पर यूजर्स से रवीश की इमानदार पत्रकारिता का नतीजा बता रहे हैं। वही कुछ लोग रवीश कुमार की आलोचना भी कर रहे है। कई पत्रकारों ने रवीश कुमार को सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव होकर नेटवर्क बढ़ाने की सलाह भी दी है।

वरिष्ठ पत्रकार अजीत अंजुम ने वीडियो जारी कर कहा है कि रवीश ने अपनी इमानदारी नही बिकने दी है और चैनल से इस्तीफा दे दिया है। उन्हाेने कहा है कि चैनल से ज्यादा दर्शक रवीश के साथ यू्ट्यूब से जुड़ रहे हैं। रवीश जन के मुद्दाे को उठान जारी रखेंगे।

आपको बता दें रवीश कुमार ने पिछले 27-28 वर्षो से NDTV में अपनी सेवाएं दे रहे थे।  NDTV सबसे खास बात यह रही कि उसने अपने पत्रकारों को हमेशा आजादी से काम करने का मौका दिया। इसकी बदोलत पत्रकारों ने जनता के मुद्दो उठाते हुए लगभग सभी सरकारों से सवाल किए।

इस लिस्ट में पत्रकार रवीश कुमार का नाम सबसे ऊपर रहा‚ जिन्हाेने हमेशा निडर और निपक्ष पत्रकारिता करते हुए सरकार को कटघरे में खड़ा किया। शायद NDTV बिकने के पीछे असली वजह भी रही। आशा करते हैं कि वीडियो में दी गई जानकारी आपको जरूर पसंद आयी होगी।