गुजरात: 2002 में हुए दंगों के आराेपी की बेटी को BJP ने दिया टिकट

gujarat assembly election news:  गुजरात की मोरबी विधानसभा सीट से हत्या के दोषी रह चुके आरोपी को टिकट देने के बाद बीजेपी ने अब एक और विवादित उम्मीदवार को टिकट देकर हंगामा खड़ा कर दिया है।  बीजेपी ने गुजरात की नरोदा विधानसभा सीट से पायल कुलकर्णी को टिकट दिया है।  पायल कुलकर्णी 2002 में हुए दंगो के आरोपी बीजेपी नेता मनोज कुलकर्णी की बेटी है।

पायल कुलकर्णी

पायल कुलकर्णी को टिकट देने के बाद ही मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी पर तीखा हमला बोला है।  कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि बीजेपी ने नरोदा पाटिया से गुजरात दंगों के आरोपी की बेटी को टिकट देकर बेहद ही शर्मनाक कार्य किया है।

आपको बता दें कि पायल कुलकर्णी के पिता मनोज कुलकर्णी पर 2002 में हुए दंगे का आरोप लगा था।  दरअसल गुजरात में साल 2002 में हुए दंगों के दौरान अहमदाबाद के नरोदा पाटिया इलाके में भी 97 लोगों की हत्या कर दी गई थी।  इस दौरान 33 अन्य लोग घायल भी हुए थे।

यह घटना तब हुई थी जब गोधरा में साबरमती एक्सप्रेस ट्रेन को जला दिया गया था।  इसके 1 दिन बाद ही यहां पर भी दंगा भड़क गया था।  साल 2009 में नरोदा पाटिया कांड का मुकदमा शुरू किया गया।  इसमें 62 आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट पेश की गई थी।  इन्हीं आरोपियों की लिस्ट में मनोज कुलकर्णी का नाम भी शामिल था।

अब भारतीय जनता पार्टी ने मनोज कुलकर्णी की बेटी पायल को मैदान में उतारा है तो एक बार फिर विवाद खड़ा हो गया है।  कांग्रेस ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा है कि भारतीय जनता पार्टी को क्या कोई दूसरा प्रत्याशी नहीं मिला था। हालांकि बीजेपी लंबे समय से ऐसा कर रही है।  कांग्रेस ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी फर्जी हिंदुत्व का मुखौटा लगाकर कार्य करती है।  कांग्रेस ने कहा है कि पायल कुलकर्णी के जीतने की कोई संभावना नहीं है।

हालांकि भारतीय जनता पार्टी को पूरी उम्मीद है कि पायल कुलकर्णी नरोदा सीट जरूर निकाल पाएगी।  आपको बता दें कि पायल कुलकर्णी काफी पढ़ी लिखी हैं और वह सबसे युवा प्रत्याशी भी है।