UP: बांदा जिला अस्पताल में 13 वर्षीय मानसिक रोगी नाबालिग से दुष्कर्म,आरोपी गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के बांदा जिला अस्पताल में रविवार को एक 13 वर्षीय नाबालिग लड़की अर्धनग्न और बेहोशी की हालत में खून से लथपथ मिली थी। जिसके बाद अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया था।  पुलिस ने रेप का मुकदमा थाना कोतवाली में दर्ज कर 24 घंटे के अंदर आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। आरोपी जिला अस्पताल का परमानेंट सफाई कर्मचारी है जो ड्यूटी के दौरान लड़की को जबरदस्ती रात में उठाकर शौचालय में ले गया. जहां उसने नाबालिग के साथ रेप किया और लड़की को बेहोशी की हालत में शौचालय में छोड़कर फरार हो गया था।

दरअसल, बांदा जिला अस्पताल के डॉक्टर एस.एन मिश्र ने बताया कि “13-14 साल की एक मानसिक रूप से विक्षिप्त बच्ची ट्रेन में बेहोश मिली थी। जिसे जीआरपी ने  बांदा अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया। लड़की अपना नाम पता तक भी नहीं बता पा रही थी। रविवार को सूचना मिली की वह लड़की अपने बेड पर नहीं है।  स्टाफ की खोजबीन की तो वह बाथरूम में पड़ी थी। मानसिक रूप से कमजोर लड़की के शरीर में निचले हिस्से में कपड़े भी नही थे। लड़की खून से लथ-पथ मिली थी और उसके प्राइवेट पार्ट से लगातार खून का रिसाव हो रहा था। जिससे गैंगरेप जैसी घिनौनी हरकत का अंदाजा लगाया जा रहा था।

पुलिस अधीक्षक अभिनंदन सिंह ने बताया कि हमने आरोपी को पकड़ने के लिए 5 टीमें बनाई। टीम को सीसीटीवी फुटेज में एक सफाईकर्मी दुर्गा नाबालिग लड़की को उठाकर ले जाते हुए दिखा। साक्ष्य के आधार पर दुर्गा को हिरासत में लिया गया तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। एसपी ने बताया कि इस पूरी घटना का अनावरण हो चुका है। आरोपी को पुलिस ने जेल भेज दिया है। उसको नौकरी से सस्पेंड करके बर्खास्त किया जाएगा। पुलिस ने माना कि हॉस्पिटल प्रशासन की लापरवाही थी। उन्होंने इस घटना के बारे में पुलिस चौकी इंचार्ज को सूचना नहीं दी।