Deepak Murder Case: सिर मिला न कातिल, आक्रोशित ग्रामीणों ने की सड़क जाम

मनोज कुमार

मेरठ: परीक्षितगढ़ के ग्राम खजुरी निवासी दीपक त्यागी की 5 दिन पूर्व हुई सिर काट कर हत्या के मामले में पुलिस अभी तक खाली हाथ है इसके विरोध में सैकड़ों ग्रामीणों ने हिंदूवादी संगठनों के साथ मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया। जाम के दौरान ग्रामीणों ने  राज्य मंत्री दिनेश खटीक के खिलाफ भी नारेबाजी की मौके पर एसपी देहात व एसडीएम मवाना ने लोगों को समझाने का प्रयास किया लेकिन ग्रामीणों ने उनकी एक नहीं सुनी।

दरअसल आपको बता दे कि किला परीक्षित थाना क्षेत्र के ग्राम खजुरी निवासी दीपक त्यागी की 5दिन पूर्व जंगल में सिर काट कर नृशंस हत्या कर दी थी। जिसके बाद लोगों ने किला मेरठ मार्ग जाम करते हुए बिना सिर के अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया था मगर राज्य मंत्री दिनेश खटीक ने लोगों को आश्वासन देते हुए जाम खुलवा दिया था वहीं एसएसपी के  वारदात के जल्द खुलासे के आश्वासन पर अगले दिन दीपक के धड़ का अंतिम संस्कार कर दिया था। 

लगभग एक सप्ताह बीतने के बाद भी पुलिस किसी आरोपी को पकड़ नहीं पाई है और ना ही दीपक का सिर बरामद कर पाई है। जिसके चलते पुलिस प्रशासन के खिलाफ ग्रामीणों में भारी रोष व्याप्त है।पुलिस इस मामले में दीपक की प्रेमिका सहित कई दर्जन लोगों से पूछताछ कर चुकी है लेकिन कोई सफलता नहीं मिली है। गांव व आसपास के नालों, तालाबों, खेतो सहित सभी संभावित जगहों पर कटे सिर की तलाश कर चुकी है, लेकिन अभी तक सिर बरामद नहीं हुआ है।

रविवार को घटना के विरोध में सैकड़ों ग्रामीण व हिंदू जागरण मंच के लोग पीड़ित पिता के साथ किला मेरठ मुख्य मार्ग पर पहुंचे तथा धरना प्रदर्शन शुरू करते हुए पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए।धरने पर बैठे लोगों ने क्षेत्रीय विधायक और राज्यमंत्री दिनेश खटीक के खिलाफ भी नारेबाजी की। लोगो ने कहा कि राज्यमंत्री घटना के बाद से अभी तक गांव में नही आए हैं। ग्रामीणों ने दिनेश खटीक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ग्रामीणों में दिनेश खटीक के खिलाफ भारी रोष व्याप्त है।

मार्ग जाम की सूचना पर एसपी देहात केशव कुमार भारी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर धरने पर बैठे लोगो को समझाया।पीड़ित पिता ने एसपी देहात से कहा कि आप मेरे बेटे का सिर लाकर दे दो। हमें सरकार से कोई आर्थिक मदद नहीं चाहिए बस अपने बेटे का सिर चाहिए। एसपी देहात ने पीड़ित पिता व ग्रामीणों की मांग पर एसआईटी का गठन करते हुए दीपक का सिर बरामद करने के लिए 2 दिन का समय दिया है। रविवार को त्यागी ब्राह्मण समाज के नेता मांगेराम त्यागी ने पीड़ित परिजनों के आवास पर पहुंचकर घटना का खुलासा करने की मांग की।