उन्नाव रेप केस का आरोपी गिरफ्तार: शक्तिवर्धक दवा खाकर किया था छात्रा का रेप, हैवानियत से हुई मौत

पुलिस गिरफ्त में आरोपी

उत्तर प्रदेश: उन्नाव जिले में अनुसूचित जाति की छात्रा से दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर घटना के खुलासे का दावा किया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी और छात्रा में प्रेम प्रसंग चल रहा था। आरोपी युवक शक्तिवर्धक दवा खाकर छात्रा के घर पहुंचा था। दुष्कर्म में हैवानियत के चलते छात्रा का अत्यधिक खून बह गया था। बेहोश होने पर छात्रा को उसके हाल पर छोड़कर आरोपी भाग निकला। अत्यधिक खून बह जाने से छात्रा की मौत हो गई।

आपको बता दें कि गुरुवार को उन्नाव जिले के सदर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव निवासी शिक्षामित्र की बेटी का रेप किया हुआ निर्वस्त्र शव घर में फर्श पर मिला था। मृतका के नाजुक अंग बुरी तरह चोटिल थे। मृतका के पिता ने पड़ोस में रहने वाले युवक और महिला पर शक जाते हुए हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में छात्रा से हैवानियत की पुष्टि हुई थी। वहीं पुलिस को मृतका के मोबाइल का लॉक तोड़ने के बाद व्हाट्सएप चैट मिली तो घटना का सच सामने आया। जिसके बाद पूरी कहानी ही बदल गई।

मोबाइल में मिली चैटिंग के बाद एसओजी टीम ने माखी थानाक्षेत्र के गांव रावतपुर निवासी रामबरन गौतम उर्फ राज और उसके दो साथियों को उठाया । रामबरन एमए प्रथम वर्ष का छात्र है। वह शहर के बाईपास स्थित अनुसूचित जाति छात्रावास में रहकर आईएएस की तैयारी कर रहा है। पूछताछ में आरोपी छात्र ने बताया कि उसकी मृतका के साथ दोस्ती थी। बुधवार रात को छात्रा ने फोन कर घर में अकेले होने की बात बताई थी। रामबरन ने वहां जाने से पहले शक्ति वर्धक (कामोत्तेजक) दवा की तीन गोलियां दवा दुकान से खरीदकर खाई थीं। 

दवाई का असर होने के कारण उसने छात्रा के घर पहुंचकर उसके साथ जबरदस्ती की।छात्रा ने विरोध किया लेकिन वह नहीं माना और फोर्सफुल (जबरदस्त) तरीके से दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। दुष्कर्म के बाद छात्रा को रक्तश्राव होने से बेहोश हो गई। आरोपी उसको उसी हालत में छोड़कर भाग गया। हैवानियत के बाद समय पर इलाज न मिलने से छात्रा की मौत हो गई।

एसपी सिद्धार्थ शंकर मीना ने बताया कि
नाजुक अंग में अगर कोई चीज घोंपी गई होती तो बाहर भी चोटें आईं होतीं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट देखी है, उसमें बाहर की तरफ किसी चोट का जिक्र नहीं है। जो भी चोट है, वह अंदर है। अभी दुष्कर्म और हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। आगे जो भी तथ्य आएंगे उसके अनुसार धाराएं बढ़ाई जाएंगी। एसपी ने खुलासे में कोतवाल राजेश पाठक और एसओजी प्रभारी प्रदीप कुमार और उनकी टीम को बधाई दी है।