काशीपुर फायरिंग: एक लाख का इनामी खनन माफिया जफर मुठभेड़ में घायल/ गिरफ्तार

मुरादाबाद: उत्तराखंड के काशीपुर फायरिंग केस में फरार चल रहे एक लाख का इनामी जफर को शनिवार तड़के मुरादाबाद जिले के पाकबड़ा से मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। मुठभेड़ के दौरान दोनों तरफ से जबरदस्त गोलीबारी मे जफर के पैर में गोली लगी है। जबकि एक कांस्टेबल भी घायल हुआ है। जफर और घायल सिपाही को मुरादाबाद जिला अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। खनन माफिया जफर पर पुलिसकर्मियों की हत्‍या के प्रयास का भी आराेप है।

दरअसल आपको बता दें कि 50 हजार के इनामी खनन माफिया जफर को मुरादाबाद जिले की ठाकुरद्वारा पुलिस  गिरफ्तार करने उत्तराखंड के काशीपुर में गई थी। जहां पर मुरादाबाद पुलिस पर हमला करते किया था। हमले के दौरान यूपी पुलिस के कुछ जवान घायल हुए थे जबकि एक महिला गुरमीत कौर की गोली लगने से मौत हो गई थी। इस मामले को लेकर मुरादाबाद पुलिस की जमकर किरकिरी हुई थी। घटना के बाद उत्‍तराखंड पुलिस और यूपी पुलिस के बीच आरोप-प्रत्‍यारोप शुरू हो गया था। जिसके बाद पुलिस ने जफर पर इनाम की राशि बढ़ाकर एक लाख रुपए कर दी।

डीआईजी शलभ माथुर के अनुसार, जफर की तलाश में पुलिस टीमें जुटी थी। शनिवार सुबह करीब पांच बजे जफर बाइक से पाकबड़ा अगवानपुर बाईपास से होते हुए अमरोहा की ओर भाग रहा था। इसी दौरान पाकबड़ा समेत अन्य थानों की पुलिस ने उसे कैलसा रोड के पास पकड़ने की कोशिश की। उसने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी। इसके बाद पुलिस ने जवाबी फायरिंग की। एक गोली जफर के पैर में लगी। इसके बाद वह बाइक समेत सड़क पर गिर गया। इसी दौरान सिपाही संदीप भी घायल हो गया। घायल जफर और सिपाही संदीप को तुरंत जिला अस्पताल भिजवा दिया है।