सांकेतिक चित्र

Gwalior News: शादी के 6 महीने बाद ही पति हत्या के मामले में जेल चला गया और उसे सजा हो गई। पिछले 7 साल से वह जेल में ही बंद है।  पत्नी ने पति को छुड़ाने के लिए लाख कोशिश की लेकिन उसे जमानत नहीं मिल सकी।  अब पत्नी ने अपना वंश आगे बढ़ाने के लिए पति की पैरोल की मांग की है। महिला ने जेल अधीक्षक से पति को पैरोल देने के लिए आवेदन दिया है।

मामला मध्य प्रदेश के ग्वालियर की सेंटर जेल का है‚ जहां पत्नी ने संतान सुख प्राप्ति के लिए पैरोल की मांग की है।  जेल अधीक्षक को आवेदन देने के लिए महिला का ससुर भी मौके पर मौजूद था।  फिलहाल जेल अधीक्षक ने इस आवेदन को शिवपुरी एसपी के पास अनुशंसा के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार शिवपुरी शहर के मनियर क्षेत्र की रहने वाले महिला ने बताया कि उसकी शादी साल 2016 में हुई थी‚ लेकिन शादी के ठीक 6 महीने बाद उसके पति को हत्या के मामले में फंसा दिया गया और उसे सजा हो गई।  महिला ने कहा कि घर में शादी की खुशियां भी ठीक से नहीं बन पाई थी कि उसके पति जेल चले गए।

घर में महिला के अलावा युवक के बूढ़े मां- बाप हैं। वंश चलाने के लिए परिवार में कोई और मौजूद नही है।  महिला चाहती है कि उसकी भी कोई संतान हो जो पति के वंश को आगे बढ़ा सके। इसके लिए महिला अपने पति के साथ शारीरिक संबंध बनाना चाहती है लेकिन पति के जेल में बंद होने की वजह से यह संभव नही है।

मीडिया से बातचीत के दौरान महिला के ससुर ने कहा कि बुढ़ापे में उन्हे दादा बनने का सुख मिल जाए और बहू का अकेलापन दूर हो जाए तो बहुत कृपा होगी। हालांकि यह तभी संभव है जब बेटे को पैरोल मिल सके। वहीं जेल अधीक्षक ने पैरोल आवेदन को एसपी की अनुशंसा के लिए भेज दिया है।  आपको बता दें कि पैरोल के लिए जिला पुलिस कप्तान की अनुशंसा जरूरी होती है। 

आँखों देखी