UP: हरदोई का थप्पड़बाज़ कोतवाल, इंसाफ मांगने आए पीड़ित को जड़ा थप्पड़

घटना के बारे में जानकारी देते हुए अधिकारी

हरदोई। पुलिस से इंसाफ मांगना बेहद मुश्किल भरा काम हो गया है। यहां न्याय के लिए गुहार पर कोतवाल का थप्पड़ मिलता है। लापता पिता का शव नहर में मिलने के बाद जब पीड़ित अफसर से न्याय की गुहार लगाने आए तो शहर कोतवाल ने पीड़ित के थप्पड़ जड़ दिया, जिससे वो नाले के किनारे जा गिरा और उसके मुंह से खून आ गया। घटना का वीडियो वहां मौजूद लोगों ने अपने कैमरे में कैद कर लिया जो अब जम कर वायरल हो रहा है।

दरअसल पिहानी थाना क्षेत्र के ग्राम मझिया बखरिया निवासी रामेश्वर पुत्र बुद्धा का 10 दिन पहले गांव के ही कुछ लोगों से विवाद हो गया था।जिसके बाद वो लापता हो गए। उनके परिजनों ने काफी खोजबीन के बाद रामेश्वर की गुमशुदगी की एफआईआर थाने में लिखाई थी। पीड़ित परिजनों का आरोप है पुलिस ने मामले में शिथिलता दिखाई और कोई फौरी कार्यवाही न करते हुए मामले को ठंडे बस्ते में डाल दिया जिसके बाद शनिवार को रामेश्वर का शव जनपद लखनऊ के थाना काकोरी क्षेत्र के एक गांव निकट नहर में तैरता मिला।

फोटो साभार- News -18

जिसके बाद परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है। पोस्टमार्टम के बाद जब पुलिस का रवैया परिजनों ने लापरवाह देखा तो अफसर की चौखट पर न्याय की गुहार लगाने हरदोई के डीएम चौराहे पहुंचे थे। परिजनों का आरोप है पुलिस अगर पहले ही विपक्षीगण को हिरासत में लेकर पूछताछ करते तो शायद रामेश्वर को बचाया जा सकता था।

पीड़ित परिवार न्याय की गुहार में अफसरों की चौखट पर न्याय पाने के लिए पहुंचा था लेकिन जैसे ही वह लोग बीएम चौराहे पर पहुंचे शहर कोतवाल संजय कुमार पांडे पुलिस बल के साथ वहां पर पहुंच गए। आरोप है जिसके बाद उन्होंने आए हुए पीड़ित परिजनों के साथ मारपीट भी की है। कोतवाल संजय पांडे का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है जिसमें वह पीड़ित परिजन के थप्पड़ मारते नजर आ रहे हैं थप्पड़ इतनी जोर का था कि पीड़ित जमीन पर दूर जा गिरा और उसके मुंह से खून रिसने लगा।

हालांकि अभी पुलिस अफसरों की तरफ से किसी भी तरह की कोई जवाब नहीं आया है लेकिन एक सवाल बड़ा जरूर उठ रहा है कि क्या हरदोई पुलिस से अब न्याय मांगना भी कोई गुनाह हो गया है।