मेरठ में ठंड से बचने के लिए अंगीठी जलाकर सो गया था परिवार, दम घुटने से पति-पत्नी और मासूम बच्ची की मौत

Meerut: मेरठ में नए साल का जश्न एक परिवार के लिए मौत की वजह बन गया। कमरे में अंगीठी जलाकर नेपाली परिवार सेलिब्रेशन के बाद सो गया। जिसके बाद दम घुटने से पति पत्नी और मासूम बच्ची की मौत हो गई।

एक साथ तीन मौतों को देखकर कोहराम मच गया। पुलिस ने फिलहाल शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। यह सनसनीखेज घटना मेरठ के थाना टीपी नगर क्षेत्र की है। जहां 31 दिसंबर की रात को नए साल का जश्न मनाते हुए एक परिवार मौत की नींद सो गया।

यह भी पढ़ें- UP: हरदोई का थप्पड़बाज़ कोतवाल, इंसाफ मांगने आए पीड़ित को जड़ा थप्पड़

सांस एवं छाती रोग विशेषज्ञ डॉ. वीरोत्तम तोमर ने बताया कि कोयले की अंगीठी जलाने से कार्बन मोनो ऑक्साइड निकलती है। यह जहरीली गैस सांस की नली से अंदर जाने के बाद दिमाग में खून की सप्लाई बाधित कर देती है। इससे दम घुट जाता है या ब्रेन हेमरेज भी हो सकता है।