मेरठ: RBI द्वारा जारी 1 रुपये के छोटे सिक्के लेने मना कर रहे हैं दुकानदार‚ होगी कार्रवाईॽ

एक रूपए के छोटे सिक्के

मेरठ/जानी खुर्द -आपके पास भी 1 रुपये का सिक्का तो जरूर होगा.अगर आप किसी दुकान पर जाएं और दुकानदार सिक्का लेने से इनकार कर दे तो सोचने पर मजबूर हो जाते हैं कि क्या यह ₹1 का छोटा सिक्का RBI द्वारा बंद कर दिया गया है क्या? बहुत से लोगों को 10 रुपये से सिक्के में तो ये समस्या आई थी, लेकिन इन दिनों सिवालखास तथा अन्य आसपास के गांवों की दुकानदार 1 रुपये को ना स्वीकार करने की शिकायतें आ रही हैं.

यह भी पढ़ें- UP: अचानक बंद हुई उत्तर प्रदेश की ई डिस्ट्रिक्ट पोर्टल सेवा‚ आम जनता परेशान

यदि आपके साथ भी ऐसा होता है और दुकानदार या कोई भी 1 रूपये का लेने से मना करता है क्योंकि 1 रुपये का सिक्का पूरी तरह वैध है और कोई भी इसे लेने से इनकार नहीं कर सकता।पिछले साल यूपी में भी यह अफवाह उड़ी थी कि एक रुपये का सिक्का वैध नहीं है, हालांकि फिलहाल 1 रुपये के सिक्के बंद करने को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक की तरफ से किसी भी तरह का निर्देश जारी नहीं किया गया है.

इसका मतलब है कि जबतक भारतीय रिजर्व बैंक अपनी तरफ से कोई निर्देश जारी नहीं करता, तब तक आप से एक रुपये का सिक्का लेने से कोई इनकार नहीं कर सकता.आपको बता दें कि 26 जून 2019 को ऑफिशियल नोटिफिकेशन के जरिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने लोगों से अफवाहों पर विश्वास नहीं करने और सभी तरह के सिक्कों को लेन-देन के लिए कानूनी निविदा के रूप में स्वीकार करने की अपील की थी.

यह भी पढ़ें- मेरठ: शास्त्री नगर में 12वीं की छात्रा ने चौथी मंजिल से कूदकर की आत्महत्या

यानी कि RBI द्वारा जारी किए गए सभी सिक्के और नोट वैध हैं और स्वीकार्य हैं.हालांकि कानून यह भी कहता है कि अगर कोई RBI द्वारा जारी किए गए सिक्के या नोट लेने से मना कर देता है तो उसपर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा किया जाएगा.
वही इस बारे में सिवालखास केनरा बैंक के शाखा प्रबंधक अनभिज्ञता ने दिखाते हुए कोई संतोषजनक जवाब नही दे सके। जबकि डीएम दीपक मीणा ने सभी सिक्को के पूर्ण रूप से संचालन की बात कही है।