मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेसवे पर तेंदुए की सड़क दुर्घटना में मौत

मृतक तेंदुआ

उत्तर प्रदेश: मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस वे पर मंगलवार शाम गांव कलछीना के पास वाहन की चपेट में आने से एक तेंदुए की मौत हो गई। तेंदुए की मौत के बाद वन विभाग की टीम ने उसके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। माना जा रहा है कि यह तेंदुआ अभी हाल फिलहाल में मेरठ के जागृति विहार में दिखने वाला भी हो सकता है। जिसकी धरपकड़ के लिए वन विभाग की टीम में लगी हुई थी। हालांकि तेंदुए की एक्सीडेंट में मौत होने के बाद भी जागृति विहार में एक बार फिर तेंदुआ देखे जाने का शोर मचा है।

मंगलवार शाम को मेरठ दिल्ली एक्सप्रेसवे पर कलछीना गांव के पास एक कार से तेंदुआ टकरा गया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। तेंदुए की मौत की खबर पर गाजियाबाद पुलिस और वन विभाग के अफसर मौके पर पहुंचे और उसके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। गाजियाबाद डीएफओ मनीष सिंह का कहना है कि तेंदुए के शव को बुधवार को पोस्टमार्टम कराया जाएगा।

आपको बता दें कि पिछले कई दिनों से मेरठ के जागृति विहार इलाके में तेंदुआ को लेकर शोर मच रहा था। माना जा रहा है कि दुर्घटना में मरने वाला यह तेंदुआ हो सकता है जो खेतो के रास्ते एक्सप्रेसवे पर पहुंच गया और दुर्घटना में मारा गया। हालांकि मंगलवार देर रात गढ़ रोड पर काली नदी से पहले नोबल पब्लिक स्कूल के समीप तेंदुए देखे जाने का शोर मच गया। हालांकि वन विभाग की टीम इस इलाके में गई और कमिंग की लेकिन कहीं तेंदुए को लेकर पुष्टि नहीं हुई। मेरठ डीएफओ राजेश कुमार का कहना है कि तेंदुए को लेकर अफवाह फैलाने वाले को झूठी सूचना देने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी