टर्की अर्थक्वेक: तुर्की में आए दो ताजा भूकंपों के बाद संयुक्त राष्ट्र (यूएन) और अमेरिका मदद के लिए आगे आए हैं। संयुक्त राष्ट्र और अमेरिका ने कहा है कि वे तुर्की को अतिरिक्त सहायता प्रदान करने के लिए तैयार हैं। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने इसकी पुष्टि की है। बता दें कि तुर्की में सोमवार को भूकंप के दो झटके महसूस किए गए।

गुतारेस ने एक ट्वीट में कहा कि मेरी संवेदनाएं अब भी तुर्की और सीरिया के लोगों के साथ हैं क्योंकि वे आज शाम (20 फरवरी) को क्षेत्र में आए नए भूकंपों के प्रभावों का सामना कर रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र की टीमें जमीनी स्थिति का आकलन कर रही हैं और हम जरूरत पड़ने पर अतिरिक्त सहायता देने के लिए तैयार हैं।

अमेरिका ने कहा- हम तुर्की के साथ खड़े हैं
गुटेरेस से पहले अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने भी कहा था कि वह तुर्की को पूरा समर्थन देने को तैयार हैं। सुलिवन ने ट्विटर पर लिखा, “हम तुर्की और सीरिया में पहले से ही तबाह हुए इलाकों में भूकंप के प्रभावों की रिपोर्ट से बहुत चिंतित हैं।” अमेरिका अपना पूरा समर्थन देना जारी रखेगा।”

ताजा भूकंप में 3 की मौत, 213 घायल
तुर्की की आपदा प्रबंधन एजेंसी (एएफएडी) ने कहा कि सोमवार शाम तुर्की के हटे प्रांत में दो भूकंप आए, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई और 213 घायल हो गए। तुर्की की अनादोलु एजेंसी के अनुसार, पहला भूकंप सोमवार शाम करीब 20.04 बजे आया, जिसकी तीव्रता 6.4 थी। इसके तीन मिनट बाद 5.8 तीव्रता का दूसरा भूकंप आया।

पहला भूकंप 16.7 किमी (10.4 मील) की गहराई पर आया, जबकि दूसरा 7 किमी (4.3 मील) की गहराई पर था। दोनों को आसपास के इलाकों में महसूस किया गया। अनादोलू एजेंसी ने बताया कि दो हफ्ते पहले आए भूकंप का केंद्र हटे से 100 किलोमीटर दूर काहनमारस में था, लेकिन हटे को भारी नुकसान हुआ था।

तुर्की के उपराष्ट्रपति ने यह अपील की
तुर्की के उप राष्ट्रपति फुअत ओकटे ने क्षेत्र के नागरिकों से क्षतिग्रस्त इमारतों से दूर रहने का आह्वान किया। उधर, अधिकारियों का कहना है कि भूकंप से बचे लाखों लोगों को मानवीय सहायता की जरूरत है।

आँखों देखी