Connect with us

Hi, what are you looking for?

सच्ची कहानियां

Corona कहरǃ 10 दिन के भीतर पूरे जैन परिवार को लील गया कोरोना, घर की देखभाल के लिए भी नही बचा कोई

कोरोना ने यह कोहराम आदर्श विक्रम नगर में रहने वाले संतोष कुमार जैन के घर बरपाया है। घर के सबसे बड़े सदस्य संतोष कुमार जैन के पिता‚ उनकी पत्नी मंजुला‚ खुद संतोष कुमार जैन और एक 26 साल की बेटी आयुषी की कोरोना की वजह से मौत हो गई।

खबर शेयर करें
जैन परिवार [फाइल फोटो]

Killer Corona:: कोरोना [ coronavirus] किस कदर लोगों की जिंदगी लील रहा है इससे बड़ी खौफनाक खबर और क्या हो सकती है कि महज 1 सप्ताह के अंदर पूरा परिवार ही खत्म हो गया। खबर उज्जैन की है जहां 10 दिन के अंदर परिवार के चार लोगों की कोरोना से मौत हो गई और पूरा परिवार ही खत्म हो गया।

विज्ञापन

कोरोना ने यह कोहराम आदर्श विक्रम नगर में रहने वाले संतोष कुमार जैन के घर बरपाया है। घर के सबसे बड़े सदस्य संतोष कुमार जैन के पिता‚ उनकी पत्नी मंजुला‚ खुद संतोष कुमार जैन और एक 26 साल की बेटी आयुषी की कोरोना की वजह से मौत हो गई। हैरानी की बात यह है सभी ने महज 10 दिन के अंदर इस दुनिया को अलविदा कह दिया। अब घर की देखरेख तक करने वाला कोई नहीं बचा है जिसके चलते घर के बाहर गार्ड की तैनाती की गई है।

ये भी पढ़ें- Accident In Patna: पुल से गंगा नदी में गिरी जीप, 10 से ज्यादा लोगों की मौत‚ कई लापता

मिली जानकारी के अनुसार 3 अप्रैल को संतोष कुमार जैन के पिता की कोरोना के चलते मौत हो गई थी। अंतिम संस्कार से आने के बाद संतोष कुमार की जैन की पत्नी मंजुला जैन को अचानक बुखार आया। जांच कराई तो रिपोर्ट पॉजिटिव आई। जिसके बाद मंजुला को हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया लेकिन दो दिन बाद ही 10 अप्रैल को मंजुला की मौत हो गई।

मंलुला के अंतिम संस्कार में शामिल होने के तुरंत बाद संतोष जैन की तबीयत खराब हुई जिसके बाद डॉक्टरों ने संतोष जैन और बेटी आयुषी जैन का सैंपल भी लिया। जिसमें दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन इस बीच 16 अप्रैल को संतोष कुमार जैन ने दम तोड़ दिया। वहीं माता-पिता की मौत से बुरी तरह से टूट चुकी बेटी भी ज्यादा दिन कोरोना से नही लड़ पाई और 19 अप्रैल को आयुषी की भी मौत हो गई।

ये भी पढ़ें- Oxygen सप्लाई के लिए Indian Air Force ने संभाली कमान‚ एयरलिफ्ट किए गए कंटेनर

तीनों का अंतिम संस्कार कोरोना प्रोटोकॉल के तहत प्रशासन ने अपनी देखरेख में करा दिया। बताया जाता है कि संतोष कुमार की बड़ी बेटी नीदरलैंड में रहती है। परिचितों ने बेटी को सूचना दे दी है। संतोष कुमार जैन बिजली विभाग से रिटायर्ड थे जबकि उनकी पत्नी मंजुला हरि फाटक क्षेत्र स्थित शासकीय स्कूल में शिक्षिका थी। जिसने भी यह घटना सुनी वह अपने आंसू नहीं रोक पाया।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: