नौकरी पर संकटǃ ट्वीटर और फेसबुक के बाद अब माइक्रोसॉफ्ट करने जा रही है हजारों कर्मचारियों की छटनी

माइक्रोसॉफ्ट करेगी छटनी

नई दिल्ली। दुनिया में आर्थिक मंदी की आहट के बीच एक के बाद एक टेक कंपनिया अपने कर्मचारियों को नौकरी से निकाल रही है। ट्वीटर‚ फेसबुक और अमेजन के बाद अब दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनी माइक्रोसॉफ्ट ने भी छंटनी की तैयारी शुरू कर दी है। बताया जा रहा है कि माइक्रोसॉफ्ट  इस साल हजारों कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाने वाली है। यूके के एक न्यूज चैनल ने यह दावा किया है।

ये छंटनी एचआर और इंजीनियरिंग विभागों में की जाएगी। यूके के एक न्यूज चैनल स्काई न्यूज ने सूत्रों के हवाले से बताया कि माइक्रोसॉफ्ट अपने मानव संसाधन में 5 फीसदी की कटौती करेगी। इसका मतलब है कि कंपनी करीब 11,000 लोगों की छंटनी करेगी। हालांकि, इस पर कंपनी की ओर से कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें- झटकाǃ 18,000 से अधिक नौकरियों में कटौती करेगा AMAZON‚ किया ऐलान

मनीकंट्रोल में प्रकाशित एक खबर में मॉर्निंग स्टार के विश्लेषक डैन रोमानोफ के हवाले से कहा गया है कि माइक्रोसॉफ्ट में छंटनी का एक और दौर बता रहा है कि स्थिति सुधरने के बजाय अब और खराब होती जा रही है. माइक्रोसॉफ्ट अपने एचआर डिपार्टमेंट से 1/3 लोगों को नौकरी से निकाल सकती है। ब्लूमबर्ग का कहना है कि इस बार छंटनी पिछले कई सालों में सबसे बड़ी होगी। 30 जून, 2022 तक कंपनी की कुल कार्य क्षमता 2,21,000 थी। इसमें से 1,22,000 लोगों को अमेरिका में और शेष 99,000 को अन्य देशों में रोजगार मिला था।

यह भी पढ़ें- ट्वीटर के बाद फेसबुक ने भी अपने 11000 कर्मचारियों को नौकरी से…

बिक्री घटने से माइक्रोसॉफ्ट पर दबाव
पर्सनल कंप्यूटर की बिक्री में पिछली कई तिमाहियों में गिरावट दर्ज की गई है। इस वजह से कंपनी के विंडोज और दूसरे डिवाइसेज की बिक्री भी काफी प्रभावित हुई है। यही वजह रही कि पिछले साल जुलाई में कंपनी ने कई कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया. कंपनी ने तब कहा था कि बहुत कम संख्या में कर्मचारियों की छंटनी की गई है, जबकि न्यूज वेबसाइट एक्सियोस ने अक्टूबर में रिपोर्ट दी थी कि माइक्रोसॉफ्ट ने करीब 1,000 लोगों की छंटनी की है।

यह भी पढ़ें- आर्थिक तंगी के चलते PHILIPS ने किया नौकरियों में कटौती का ऐलान

टेक कंपनियों में लगातार हो रही छटनी 
Microsoft पहली टेक कंपनी नहीं है जो इस साल बड़े पैमाने पर छंटनी करने की योजना बना रही है। इससे पहले अमेजन, सेल्सफोर्स और कॉइनबेस की अगुआई में 91 टेक कंपनियां साल के पहले 15 दिनों में ही 24,151 लोगों की छंटनी कर चुकी हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब गूगल भी बड़े पैमाने पर छंटनी की तैयारी में जुट गई है. कहा जा रहा है कि गूगल भी करीब 11,000 लोगों की छंटनी करेगा। टेक कर्मचारियों के लिए भी साल 2022 काफी निराशाजनक रहा। मेटा, ट्विटर, ओरेकल, स्नैप और इंटेल सहित कई अन्य टेक कंपनियों ने पिछले साल कुल 1,53,110 छंटनी की। अकेले नवंबर महीने में ही 51489 लोगों को बेघर किया गया।