Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तर प्रदेश

Sonbhadra News: नसबंदी कराने आई महिला से एंबुलेंस चालक ने मांगे 500 रूपए‚ चेन गिरवी रखकर पहुंची घर

सोनभद्र उत्तर प्रदेश में सोनभद्र के घोरावल कोतवाली क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की एक शर्मनाक तस्वीर तब सामने आई जब एक एम्बुलेंस चालक (108 Ambulance Driver) ने मंगलवार को शिविर में नसबंदी कराने आई महिला लाभार्थी को घर पहुंचाने के एवज में रुपयों की मांग की। महिला के पास पैसे नहीं थे जिसके चलते उसने पैसे देने से मना कर दिया। इस दौरान करीब 8 घंटे तक महिला सीएचसी के बाहर जमीन पर पड़ी रही। बाद में महिला को भाड़े की पिकअप लेकर घर जाना पड़ा। जिसको किराया देने के लिए उसे अपनी चांदी की चेन गिरवी रखनी पड़ी।

जानकारी के अनुसार कोलाडीह गाँव निवासी लहरी पुत्र डंगर ने कहा कि उनकी बहू सीता देवी की पत्नी बृजेश को अपनी नसबंदी करानी थी। मंगलवार सुबह नसबंदी के बाद, उसे एम्बुलेंस से जाने के लिए एक आईडी भी जारी की गई। उसके बाद जब एम्बुलेंस से घर जाने के लिए ड्राइवर के पास पहुंचे तो आरोप है कि उसने ले जाने के लिए 500 रुपए मांगे। परिवार के लोगों ने 300 रुपये ही होने की बात कही लेकिन ड्राइवर तैयार नहीं हुआ।

तब सीताराम देवी ने घोरावल नगर में एक सुनार की दुकान पर गिरवी रखकर 1500 रुपए लिए। तब परिवार ने एक पिकअप ट्रक किराए पर लिया और घर वापस आए।

एक दूसरी घटना में कुसुम्हा निवासी चंद्रभान सिंह ने एम्बुलेंस चालक पर नसबंदी कराने वाली महिलाओं को घर पहुंचाने की एवज में 200-200 रुपए और अस्पताल परिसर में रहने वाले एक स्वास्थ्यकर्मी पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए अधीक्षक को शिकायती पत्र दिया है.
इस सम्बंध में सीएमओ डॉ. नेम सिंह ने फोन पर बताया कि इस तरह की घटना बेहद दुःखद है. उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना क्षम्य नहीं है. घोरावल का प्रकरण संज्ञान में आते ही कार्रवाई कर दी गयी है और दोषी ड्राइवर को लखनऊ से सम्बद्ध कर दिया गया है.

बता दें कि नसबंदी के दौरान धन उगाही का यह कोई पहला मामला नहीं है. इससे पहले भी सीएचसी चोपन में नसबंदी कराने आयी कई लाभार्थी महिलाओं से पैसे की वसूली की गई थी. जिसमें अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई.

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: