Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तर प्रदेश

Shamli: पत्रकार सुरक्षा अधिनियम कानून लागू कराने की मांग को लेकर ज्ञापन

ज्ञापन में बताया गया हैं कि देशभर में पत्रकारों के खिलाफ उत्पीड़न की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। गत 15 अगस्त को जनपद बांदा में हुए राष्ट्रगान के अपमान को लेकर जिन पत्रकारों ने आवाज उठाई थी।

खबर शेयर करें


कैराना। पत्रकारों ने राष्ट्रपति व राज्यपाल को ज्ञापन भेजकर पत्रकारों के उत्पीड़न पर रोक लगाने, पत्रकारों को सुरक्षा मुहैया कराने व पत्रकार सुरक्षा अधिनियम कानून लागू कराने की मांग की। बुधवार को कैराना नगर के दर्जनभर पत्रकार तहसील मुख्यालय पर पहुंचे। जहां पर सभी पत्रकारों ने महामहिम राष्ट्रपति व प्रदेश के राज्यपाल को संबोधित एक ज्ञापन एसडीएम उद्भव त्रिपाठी को सौंपा।

ज्ञापन में बताया गया हैं कि देशभर में पत्रकारों के खिलाफ उत्पीड़न की घटनाएं लगातार बढ़ रही हैं। गत 15 अगस्त को जनपद बांदा में हुए राष्ट्रगान के अपमान को लेकर जिन पत्रकारों ने आवाज उठाई थी। उनमें से मुख्य रूप से महिला पत्रकार शालिनी पटेल के खिलाफ राजनीतिक दबाव के चलते पुलिस प्रशासन द्वारा धारा 151 सीआरपीसी के तहत कार्यवाही की गई थी। जिससे देश में चौथे स्तंभ का अपमान हुआ है।

बताया गया कि महिला पत्रकार शालिनी पटेल लगभग 12 दिनों से अनशन पर बैठी हुई है। जिसकी आवाज को निरंतर राजनीतिक लोगों द्वारा दबाने का प्रयास किया जा रहा है। शालिनी पटेल पर राजनीतिक दबाव के कारण मनघड़ंत तरीके से की गई कार्यवाही की कैराना के सभी पत्रकार घोर निंदा करते हैं। पत्रकारों ने ज्ञापन के माध्यम से मांग की हैं कि देश में पत्रकारों के उत्पीड़न को रोका जाएं।

देश भर में पत्रकारों को सुरक्षा मुहैया प्रदान कराई जाएं। सरकारी अधिकारी व राजनीतिक तथा दबंग लोगों द्वारा पत्रकारों को कवरेज करने से रोकने पर कड़ी कार्यवाही की जाएं। पत्रकारो के हित के लिए सुरक्षा अधिनियम कानून लागू किया जाएं। पत्रकारों पर हो रहे फर्जी मुकदमे वापस लिए जाएं।

यह भी पढ़ें- New Delhi: रेप केस के आरोपी पत्रकार तरुण तेजपाल को गोवा सेशन कोर्ट ने किया बरी

पत्रकार शालिनी पटेल को न्याय दिलाने और आरोपियों के विरुद्ध देशद्रोह के तहत मुकदमा पंजीकृत कर कार्यवाही की जाएं। इस दौरान वरिष्ठ पत्रकार मेहरबान अली कैरानवी, अहसान अली सैफी, संदीप इंसा, आरिफ चौधरी, इरफान चौधरी, दीपक कश्यप, सनव्वर सिद्दीकी, अनस फारुकी, सुहैब अंसारी व दिलशाद चौधरी सहित आदि पत्रकार मौजूद रहें।

यह भी पढ़ें- मेरठ: पत्रकार पर हमले के विरोध मे एबीपीएसएस ने दिया एसएसपी को ज्ञापन

पत्रकार सुलभ श्रीवास्तव की हत्या के मामले में अखिल भारतीय पत्रकार सुरक्षा समिति ने सौंपा ज्ञापन

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: