Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तर प्रदेश

रालोद का चुनावी बिगुल: मुजफ्फरनगर रैली में जयंत बोले- प्रदेश में सत्ता परिवर्तन कर लेंगे लखीमपुर का बदला

डीएवी इंटर कॉलेज के मैदान में आयोजित  जनसभा में रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी ने रालोद का चुनावी बिगुल फूंका। दोहपर दो बजे रालोद सुप्रीमो जयंत चौधरी रैली को संबोधित करने पहुंचे। जिनको सुनने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। जाहिर है रालोद की जिम्मेदारी अब जयंत चौधरी के कंधों पर है। ऐसे में वह अपने क्षेत्र की जनता को दिल जीतने की पुरजोर कोशिश करने में जुटे हैं।

खबर शेयर करें

Author: सलीम फारूकी

उत्तर प्रदेश: विधान सभा के चुनाव 2022 में होने तय हैं जिसके लिए सियासी दल पश्चिमी उत्तर प्रदेश से अपना चुनावी आगाज करने में जुटे हैं। रविवार को समाजवादी पार्टी ने सहारनपुर से अपना चुनावी आगाज किया तो वहीं राष्ट्रीय लोकदल ने आज मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना में महारैली का आयोजन किया। सोमवार को हुई इस महारैली का नाम आशीर्वाद पथ यात्रा रखा गया है।

रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष जयंत चौधरी ने बुढाना रैली में कहा कि लखीमपुर खीरी की घटना को हमें भूलना नहीं चाहिए। जिन किसानों ने हमारे लिए शहादत दी है उनके नाम याद रखो, चुनाव में जब छिपे चेहरे वोट मांगने आएं तब इन शहीदों के नाम उन्हें बता कर लखीमपुर की घटना को याद दिलाना। उन्होंने कहा प्रदेश में सत्ता परिवर्तन कर हमें लखीमपुर की घटना का बदला लेना है। उन्होंने कहा कि किसानों को कुचलने वाले आतंकवादी है

जयंत चौधरी ने मोदी सरकार को पूंजीपतियों के रिमोट कंट्रोल की सरकार और यूपी की योगी सरकार को बिना कंट्रोल की सरकार बताया। उन्होंने कहा कि मोदी और योगी ने जो वादे किए थे वह सब यादें झूठे निकले हैं। महंगाई पर रोक नहीं लगी, किसानों की आय दोगुनी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि डिफाल्टर चीनी मिलों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

सर्वोदय योजना में सबका विकास किया जाएगा। सुरक्षा की गारंटी दी जाएगी।पंचायती राज के तहत सभी अधिकार दिए जाएंगे, पश्चिम यूपी के अलावा बुंदेलखंड में भी हाईकोर्ट बेंच की स्थापना कराई जाएगी।उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार किसानों को छह हजार रुपये दे रही हैं। प्रदेश में रालोद की सरकार आने पर 12 हजार और सीमांत किसानों को 15 हजार रुपए सालाना दिए जाएंगे।

उन्होंने लोगों से चौधरी चरण सिंह और अजीत सिंह की नीतियों पर चलकर सत्ता परिवर्तन करने का आह्वान किया। 31 अक्टूबर को रालोद का चुनावी घोषणा पत्र जारी किया जाएगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं से गांव-गांव जाकर मौजूदा सरकार की किसान और जनविरोधी नीतियों को लोगों से बताने का आह्वान किया। इस दौरान कई समाज के लोगों ने पगड़ी पहनाकर उनका अभिनंदन किया। जयंत की रैली में भारी संख्या में लोगों की भीड़ नजर आई।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: