Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तर प्रदेश

मेरठ पुलिस ने भारी फोर्स के साथ लिसाड़ी गेट में चलाया अपराधी सत्यापन महाअभियान

ऐसे में मेरठ पुलिस ने लिसाड़ी गेट क्षेत्र में रह रहे अपराधियों पर लगाम कसने के लिए एक महा अभियान चलाया। हत्या, लूट, डकैती ,चोरी समेत अन्य अपराधिक मामलों में 10 साल से लिप्त लोगों की सूची तैयार की गई। जिसमें पाया गया कि करीब 300 अपराधी मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र के ही रहने वाले हैं। जिसके बाद पुलिस ने एक्शन प्लान तैयार करके भारी फोर्स के साथ अपराधियों का सत्यापन कराना शुरू कर दिया।

खबर शेयर करें

Author: जावेद खान

लिसाड़ी गेट थानाक्षेत्र में अपराधी सत्यापन अभियान चलाती मेरठ पुलिस :फोटो- आँखों देखी लाइव न्यूज़

उत्तर प्रदेश: मेरठ पुलिस ने अपराधियों के खिलाफ सबसे बड़ा अभियान पुलिस ने छेड़ दिया है। अपराध और अपराधियों पर लगाम कसने के लिए पुलिस ने 10 साल से अपराधों में लिप्त लोगो का डाटा तैयार किया है । जिसमें हैरानी की बात यह है कि जिले भर में हत्या ,लूट ,डकैती समेत अन्य अपराधिक वारदातों को अंजाम देने वाले करीब 300 लोग मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र के ही निवासी हैं। शुक्रवार को मेरठ पुलिस ने अपराधियों के गढ़ लिसाड़ी गेट में अपराधियों का सत्यापन अभियान चलाया। जिसमें दो हत्या के आरोपी भी गिरफ्तार कर लिए गए।

मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र अपराधियों का गढ़ माना जाता है । मेरठ में ही नहीं बल्कि मंडल भर में जहां भी बड़ी आपराधिक वारदात होती है उसके तार लिसाड़ी गेट से खुद ब खुद जुड़ जाते हैं । मेरठ में पिछले एक माह में बड़ी आपराधिक वारदातों को लेकर आईजी ने क्राइम बैठक ली। जिसमें अधीनस्थ अधिकारियों को जमकर फटकार भी पड़ी।

आज शुक्रवार सुबह से मेरठ के थाना लिसाड़ी गेट क्षेत्र में अपराधियों का सत्यापन को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए 2 आईपीएस 3 एसपी, तीन डिप्टी एसपी और इंस्पेक्टर दरोगा समेत 40 टीमों की लंबी फौज ने अपराधियों के घर पहुंच गई घर पर पहुंचकर अपराधियों की वास्तविक स्थिति का सत्यापन किया गया। जिसमें पाया गया कि अपराधी तो खुद ही मौत की नींद सो गए ,कुछ जेल में है और कुछ फरार हैं।

अभियान के दौरान हत्या के दो आरोपी महिलाएं गिरफ्तार कर ली गई।अचानक पुलिस के मूवमेंट से अपराधियों में हड़कंप का माहौल है।पुलिस अधिकारियों की माने तो सत्यापन अभियान से अपराधियों की वास्तविक स्थिति का पता चल पाएगा। जिससे जिले भर में क्राइम कंट्रोल करने में आसानी होगी और लोगों में पुलिस के प्रति भरोसा और सुरक्षा का भाव भी बढ़ेगा ।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: