Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तर प्रदेश

Meerut लव जिहाद: अनिल सैनी बन हिन्दू लड़कियों को फँसाता था ‘अब्दुल सलाम’, शादी भी रचाई

मेरठ में लव जिहाद के कई मामले अब तक बवाल कर आ चुके हैं। जिसके बाद उत्तर प्रदेश सरकार ने इन मामलों पर संज्ञान लिया और कड़ा कानून बना डाला। इस कानून के बनने के बाद इस तरह के मामलों में कमी जरूर आई है। लेकिन घटिया मानसिकता के लोग अभी भी लव जिहाद की इस घिनौनी वारदात को अंजाम देने से नहीं चूक रहे हैं।

खबर शेयर करें

Manoj kumar

आरोपी अब्दुल सलाम उर्फ अनिल सैनी -फोटो: आंखों देखी लाइव

उत्तर प्रदेश में भले ही लव जिहाद को लेकर कड़ा कानून बन गया हो। लेकिन मेरठ में एक बार फिर लव जिहाद का शर्मनाक मामला सामने आया है। हिंदू लड़कियों को फंसाने के लिए अब्दुल अनिल बन गया। जिसके बाद उसने फर्जी कागजात तैयार करा कर हिंदू रीति रिवाज से शादी रचा ली। इतना ही नहीं 2 बच्चे भी हुए। जिसके बाद उसने मेरठ और अन्य जगहों पर कई हिंदू लड़कियों से भी संबंध बनाएं। लेकिन इस मामले की पोल खुली तो पत्नी और प्रेमिका दोनों ही थाने पहुंच गई। अब आरोपी पुलिस की गिरफ्त में है।

पुलिस के पास पहुंची दोनो पीड़िता- फोटो: आँखों देखी लाइव

दरअसल, बुलंदशहर जिले के सिकंदराबाद इलाके का रहने वाला अब्दुल सलाम कई सालों पहले मेरठ आ गया। जिसके बाद उसने पिंकी को मिस कॉल के सहारे अपने प्रेम जाल में फंसा लिया। जिसके बाद नकली कागजात तैयार करके हिंदू रीति रिवाज से मंदिर में पिंकी से शादी कर ली। कुछ सालों बाद पिंकी को उसके मुस्लिम होने का पता लगा। अब्दुल और उसके घर वालों ने पिंकी पर धर्म बदलने के लिए दबाव भी बनाया लेकिन वह नहीं मानी और अब पिंकी इंसाफ की गुहार लगा रही है

युवक के पास से बरामद नकली आईडी

अब्दुल के फरेब की कहानी यहीं नहीं रुकी। पिंकी के बाद मोनिका और फिर मंजू समेत कई लड़कियों से उसके संबंध रहे। पिंकी को जब पता लगा कि उसके पति ने उसे धोखा दिया है तो सौतन के घर जा पहुंची जिस पर असलियत खुलकर सामने आ गई। अब्दुल के धोखे के खिलाफ पत्नी और प्रेमिका दोनों ही मेरठ के थाना सदर बाजार पहुंच गई। जहां उन्होंने रेप और दुराचार समेत कई गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज करा दिया ।

पुलिस ने जब आरोपी अब्दुल को गिरफ्तार किया तो उसके पास विक्की और अनिल नाम से कई आईडी बरामद हुई। माना जा रहा है कि लड़कियों को प्रेम जाल में फंसाने के लिए यह अलग-अलग नाम रखता था। अब्दुल ने अपने इस फरेब को छुपाने के लिए मीडिया के सामने कई और कहानियां घढना शुरू कर दिया। पुलिस अधिकारियों की माने तो अब्दुल की गिरफ्तारी के बाद कई खुलासे हुए हैं। जिन लोगों ने उसे नकली आईडी बनाने में मदद की अब पुलिस उनकी भी गिरफ्तारी करेगी।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: