Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तर प्रदेश

ललितपुर रेप कांड: बाप सहित 4 आरोपी गिरफ्तार, भाई ने भी लगाया बाप पर दुष्कर्म का आरोप

पुलिस ने बताया की पुत्र की तहरीर पर एक अलग मुकदमा दर्ज हो रहा है। पुत्र ने आरोप लगाया है कि उसका पिता उसके साथ भी दुष्कर्म की कोशिश करता था। विरोध करने पर उसकी मां की हत्या की धमकी देता था।

खबर शेयर करें

उत्तर प्रदेश: ललितपुर में किशोरी द्वारा पिता व सपा-बसपा जिलाध्यक्ष समेत 28 लोगों पर रेप दर्ज होते ही बुंदेलखंड की राजनीति में सनसनी मच गई है। किशोरी के 164 के मजिस्ट्रट के बयान और मेडिकल परीक्षण के बाद पुलिस कार्रवाई तेज हो गई है। पुलिस ने तबड़तोड़ दबिश देकर किशोरी के पिता, सपा जिलाध्यक्ष के भाई समेत चार आरोपित गिरफ्तार कर लिए गए हैं। उनसे पूछताछ की जा रही है। किशोरी के बाद उसके भाई ने भी अपने पिता पर कई बार दुष्कर्म के प्रयास का आरोप लगाया है।

सबसे पहले पकड़ा गया आरोपी पिता

बुधवार को पुलिस ने सिविल जज जूनियर डिवीजन फास्ट ट्रैक गरिमा सक्सेना की कोर्ट में किशोरी के बयान कराए। डेढ़ घंटे तक बयान हुए। इसके बाद एसपी निखिल पाठक ने आरोपितों को पकड़ने के निर्देश दिए। कोतवाली पुलिस और एसओजी ने आरोपितों के संभावित ठिकानों पर छापेमारी शुरू की। सबसे पहले पीड़िता का पिता पकड़ा गया।उसके बाद किशोरी के दो अन्य नामजद परिजन और सपा जिलाध्यक्ष का भाई को गिरफ्तार कर लिया गया।

सांकेतिक चित्र

बेटे की तहरीर पर पिता पर होगा अलग मुकदमा

बेटी से रेप करने वाले पिता पर उसके पुत्र ने दुष्कर्म की कोशिश को लेकर गंभीर आरोप लगाने के बाद बाप के खिलाफ एक और मुकदमे की तैयारी शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया की पुत्र की तहरीर पर एक अलग मुकदमा दर्ज हो रहा है। पुत्र ने आरोप लगाया है कि उसका पिता उसके साथ भी दुष्कर्म की कोशिश करता था। विरोध करने पर उसकी मां की हत्या की धमकी देता था।

कई आरोपियों ने किए अपने फ़ोन बंद, किशोरी की सुरक्षा बढ़ाई

कई आरोपितो ने अपने फोन बंद कर लिए हैं तथा कुछ ने राजनीतिक शरण ले ली है। बुधवार शाम डीआईजी जोगिंदर कुमार ने पीड़िता के घर पर उसे सुरक्षा, न्याय का भरोसा दिलाया। उधर शासन ने इस मामले में रिपोर्ट तलब की है। एसपी निखिल पाठक ने कहा कि किशोरी के बयान के आधार पर कार्रवाई की जा रही है। रेप कांड को लेकर तमाम चर्चाएं हैं। कहा जा रहा है कि किशोरी संग दुष्कर्म मामले में पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे हैं।

किशोरी का नाम उजागर करने पर 150 सपाई फंसे

रेप केस में सपा जिलाध्यक्ष तिलक यादव और उनके भाइयों की नामजदगी के विरोध में  करीब 150 सपा नेताओं ने ज्ञापन दिया। उसमें रेप का आरोप लगाने वाली किशोरी का नाम लिख कर उसे सार्वजनिक कर दिया। जिस कारण उन सभी पर नाबालिग की पहचान उजागर करने को लेकर कार्यकर्ता फंस गए हैं। पुलिस ने ज्ञापन लेकर आए लोगों की फोटो से सूची बना ली है।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: