Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तर प्रदेश

यूपी से बंगाल तक जानलेवा बुखार का कहर‚ अब तक 100 से ज्यादा बच्चों की मौत

सबसे चिंताजनक बात ये है कि बुखार से मरने वालों में सबसे ज्यादा संख्या 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों की है, अब तक इस उम्र के कुल 10 बच्चों की मौत हो चुकी है. वही 10 से 15 वर्ष के 10 नाबालिग बच्चों की जान जा चुकी है.

खबर शेयर करें

Viral Fever. कोरोना का असर कम होने के बाद देश में दूसरी बीमारियों का भी कहर बढ़ने होने लगा है. देश के कई राज्यों में बड़ी संख्या में बच्चे वायरल बुखार (Viral Fever) का शिकार हो रहे हैं. आलम ये है कि उत्तर प्रदेश से लेकर बिहार, पश्चिम बंगाल और हरियाणा तक रोजाना सैकड़ों बच्चे बुखार की चपेट में आ रहे हैं. बिमार बच्चों को बड़ी संख्या में अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा रहा है. आंकड़ों के अनुसान अब इन सभी राज्यों में कुल मिलाकर अब तक सौ से ज्यादा बच्चों की मौत हो चुकी है. जानलेवा वायरल और डेंगू बुखार ने लखनऊ से लेकर दिल्ली तक के स्वास्थ्य विभाग को हिला कर रख दिया है.

फिरोजाबाद में लगातार बढ़ रहे हैं मामले
वायरल फीवर को देखते हुए लखनऊ स्वास्थ्य विभाग की ओर से फिरोजाबाद के लिए मेरठ और गाजियाबाद सहित कई जिलों से डॉक्टरों की 5 टीमें भेजी जा रही हैं. यूपी में सबसे ज्यादा बेहाल फिरोजाबाद जनपद है‚ यहां वायरल और डेंगू से मौतों का आंकड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुद बुखार से होने वाली मौतों का संज्ञान लेते हुए मृतक बच्चों के परिजनों के साथ मेडिकल कॉलेज में भर्ती बच्चों से मिलकर उनका हाल जाना है. वहीं फिरोजाबाद की मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) को लापरवाही के आरोप में तत्काल प्रभाव से हटा दिया गया है. लेकिन नगर निगम की भारी लापरवाही होने के बाद भी उस पर कोई कार्रवाई नही की गई है.

बच्चे हो रहे हैं शिकार
सबसे चिंताजनक बात ये है कि बुखार से मरने वालों में सबसे ज्यादा संख्या 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों की है, अब तक इस उम्र के कुल 10 बच्चों की मौत हो चुकी है. वही 10 से 15 वर्ष के 10 नाबालिग बच्चों की जान जा चुकी है. इसके अलावा एक पुरुष और 6 महिलाओं की मौत जनपद में बुखार से हुई है . मेडिकल कॉलेज के 100 बेड वाले अस्पताल का आलम है कि यहां 425 बच्चे अभी भी भर्ती हैं और वयस्क मरीजों की संख्या लगभग 200 बताई जा रही है.

पश्चिम बंगाल में अज्ञात बुखार का कहर
उधर पश्चिम बंगाल के अलग-अलग हिस्सों में लगातार अज्ञात बुखार के मामले सामने आ रहे हैं. इसी क्रम में पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में भी फिलहाल 94 बच्चे भर्ती हैं. मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज के एमएसवीपी ओमियो कुमार बेरा ने बताया कि 2 दिन पहले भर्ती हुए बच्चों की संख्या ज्यादा थी लेकिन धीरे-धीरे इनकी संख्या कम हो रही और फिलहाल 94 बच्चे अस्पताल में भर्ती हैं.

हरियाणा में बुखार का कहर
हरियाणा के पलवल जिले के चिल्ली गांव में पिछले एक पखवाड़े के दौरान बुखार और अन्य बीमारियों से छह बच्चों की मौत हो गई. अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि किसी भी बच्चे की मौत डेंगू या कोविड-19 से नहीं हुई है. एक अधिकारी ने बताया कि इनके अलावा एक बच्चे की ‘दूध’ नहीं मिलने की वजह से घर में मौत हो गई और इस मौत का बीमारी से कोई लेना-देना नहीं है.’ पलवल के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर ब्रह्मदीप ने बताया कि जिन छह बच्चों की मौत हुई है, उनकी उम्र 10 साल से कम है. अधिकारी ने बुधवार को गांव का निरीक्षण किया था.

बिहार में भी डेंगू  के मामले
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि प्रदेश में डेंगू के अब तक 10 मामले सामने आए हैं. जनता दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से मुख्यमंत्री कुमार ने कहा कि डेंगू के संबंध में दो दिन पहले उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के साथ समीक्षा बैठक की है. सारण में एक और गोपालगंज में डेंगू के नौ मामले सामने आए हैं. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव को लेकर सभी कार्य किये जा रहे हैं. वायरल बुखार से बच्चों के प्रभावित होने को लेकर स्वास्थ्य विभाग के साथ समीक्षा कर अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है.

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: