Connect with us

Hi, what are you looking for?

उत्तर प्रदेश

मेरठ के फतेहपुर गांव में 80% हिन्दू, लेकिन मुर्दा फूंकने के लिए नही है जगह, मुर्दा लेकर जाना पड़ता है 20 किमी दूर

मनोज कुमार

मेरठ जिले के माछरा ब्लॉक के फतेहपुर नारायण गांव आजादी के 75 साल बाद भी मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहे है। मेरठ मुख्यालय से लगभग 30 किलोमीटर दूर हापुड़ की सीमा से लगे हुए इस गांव की कुल आबादी लगभग 4500 है। हिन्दू बाहुल्य गांव में लगभग 80% से ज्यादा आबादी हिंदुओ की है। इतनी आबादी होने के बाद भी इस गांव में मुर्दा फूंकने के लिए जगह नही है। जिस कारण मुर्दा फूंकने के लिए गांव से 20 किमी दूर ब्रजघाट जाना पड़ता है। गांव का कोई व्यक्ति चाहे खाने को मोहताज़ ही क्यों ना हो लेकिन उसके घर मे कोई मौत हो जाती है तो उस परिवार को शव के अंतिम संस्कार के लिए किराए के वाहन में शव रखकर गांव से लगभग 20 किमी दूर ब्रजघाट ले जाना पड़ता है।

ग्रामीण मुकेश त्यागी, सतपाल सिंह, देवीदयाल, सुभाष त्यागी, अम्बरीष त्यागी, राजेन्द्र त्यागी, संदीप त्यागी, मदनपाल, त्रिलोक सिंह, गजे सिंह का कहना है कि हमने अपनी इस बड़ी समस्या से जनप्रतिनिधियों को कई बार अवगत कराया है लेकिन सिर्फ आश्वासन के अलावा कभी कुछ नही मिला, हमारी इस समस्या की तरफ किसी ने ध्यान नही दिया।

ग्राम प्रधान चन्द्रपाल ने बताया कि अपने कार्यकाल में मैने कई बार इस समस्या से प्रशासनिक अफसरों को अवगत कराया है उनको लिखित में भी प्रार्थनापत्र देकर मांग की है लेकिन इस समस्या का आज तक कोई हल नही निकला है।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement