Connect with us

Hi, what are you looking for?

राज्य/ states

UP: देवरानी को शादी में मिल रहे थे ज्यादा जेवर, नाराज जेठानी ने तीन बच्चों सहित खाया जहर, बेटे सहित महिला की मौत

देवरिया जिले के बरहज क्षेत्र के ग्राम कटिलवा की एक महिला ने बुधवार देर रात अपने तीन बेटों के साथ कीटनाशक खा लिया। जब सभी की तबीयत बिगड़ी तो परिजन उन्हें इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए। जहां डॉक्टर ने महिला को मृत घोषित कर दिया। तीनों मासूमों को गंभीर हालत में इलाज के लिए देवरिया रेफर किया गया। रास्ते में एक मासूम की भी मौत हो गई। कीटनाशकों को खाने का कारण  महिला के देवर की शादी के लिए खरीदे गए गहने हैं। महिला को इस बात पर आपत्ति थी कि उसकी शादी में कम आभूषण दिए गए थे और देवर की होने वाली शादी के लिए परिजनों ने अधिक आभूषण खरीद लिए हैं।इसी बात को लेकर महिला नाराज थी।

यह है घटना

गांव कटिलवा निवासी 32 वर्षीय संगीता ने बुधवार रात करीब 12 बजे अपने बेटे जयराज (उम्र 10 वर्ष) शिवराज (उम्र 6 वर्ष) रामराज (उम्र 4 वर्ष) के साथ कीटनाशक खा लिया। देर रात सभी की सेहत बिगड़ गई। परिजनों को इसकी जानकारी हुई तो परिजन इलाज के लिए अस्पताल ले जाने लगे। इस दौरान घर पर ही संगीता की मौत हो गई। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र से इलाज के लिए देवरिया ले जाते समय शिवराज की भी मौत हो गई। जयराज और रामराज का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।  दोनों की हालत गंभीर है।

देवर की शादी में अधिक आभूषण खरीदने से परेशान थी संगीता

आपको बता दें कि संगीता बुधवार को खेत से सरसों काटकर परिवार के साथ घर आई।  परिवार के सदस्यों को इस तरह की हरकत का अंदाजा नहीं था। परिवार के सदस्यों की मानें तो आनंद के छोटे भाई की मई के महीने में शादी होने वाली है। जिसके चलते चार दिन पहले शादी के गहने खरीदे गए थे। लेकिन महिला संगीता को इस बात से गुस्सा था कि उसकी होने वाली देवरानी के लिए उसके मुक़ाबले ज्यादा गहने खरीदे गए है। उसकी शादी में इतने गहने क्यो नही खरीदे गए। महिला ने परिजनों से कहा था कि मुझे भी आभूषण खरीदने चाहिए। जिस पर परिजन पैसों की किल्लत बताकर गहने खरीदने को मना कर दिया। थानाध्यक्ष जयंत कुमार सिंह ने बताया कि मृतका का पति आनंद बंगलौर में है। वह वहां पेंटर का काम करता है। मायका बलिया जिले के बांसडीह थाने के हरदिया गाँव में स्थित है।

गाँव में पसरा मातम

एक साथ दो मौतों के बाद कटिलवा गांव में शोक का माहौल है। घर और रिश्तेदार सभी की आंखें नम हैं। रिश्तेदारों का आना जारी है। हर कोई संगीता के नकारात्मक फैसले को कोस रहा है। जिला अस्पताल में भर्ती संगीता के दोनों मासूम बच्चे जयराज और रामराज का इलाज जारी है।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement