Connect with us

Hi, what are you looking for?

दिल्ली

Batla house Case: बाटला हाउस एनकाउंटर केस में दोषी आरिज खान को कोर्ट ने सुनाई फांसी की सजा

New Delhi- दिल्ली में साल 2008 में हुए बटला हाऊस एनकाउंटर [Batla house Case] केस में दोषी पाए गए आरिज खान को दिल्ली की एक अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है। कोर्ट ने पुलिस निरीक्षक मोहन चंद शर्मा की हत्या और अन्य मामलों में दोषी आरिज खान को फांसी की सजा सुनाई है। अदालत ने इस जुर्म को रेयरेस्ट ऑफ रेयर केस करार देते हुए दोषी को ये सजा दी है।

अदालत ने 11 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया है। अदालत ने निर्देश दिया है कि इस राशी में से 10 लाख रूपए तत्काल प्रभाव से मृतक इंस्पेक्टर के परिवार वालों को दिए जाएं। बता दे कि पुलिस ने आतंकवादी संगठन इंडियन मुजाहिदीन से जुड़े आरिफ खान को फांसी की सजा दिए जाने की मांग की थी। पुलिस ने कहा था कि आरोपी द्वारा किया गया गुनाह न केवल हत्या का मामला है बल्कि न्याय की रक्षा करने वाले अधिकारी की हत्या का मामला भी है।

ये भी पढ़ें- UP Panchayat Chunav Aarakshan list: योगी सरकार को हाईकोर्ट का झटका, 2015 के आधार पर लागू होगा आरक्षण

पुलिस [delhi police] के तर्क पर विचार करते हुए कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। अतिरिक्त लोक अभियोजक एटी अंसारी ने बताया कि इस मामले में ऐसी सजा दिए जाने की जरूरत है जिससे लोग सबब ले सके। हालांकि आरिज खान के वकील ने मृत्युदंड की सजा का कड़ा विरोध किया। इससे पहले अदालत ने बटला हाउस मुठभेड़ के दौरान हुई इंस्पेक्टर शर्मा की हत्या और अन्य अपराधों के लिए आरिफ खान को दोषी ठहराया था। अदालत ने कहा था कि आरिज खान और उसके साथियों ने ही पुलिस अधिकारी पर गोली चलाई थी जिससे उनकी मौत हो गई थी।

आपको बता दें कि साल 2008 में दक्षिणी दिल्ली के जामिया नगर इलाके में मुठभेड़ के दौरान दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ के निरीक्षक मोहन चंद शर्मा की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में जुलाई 2013 में अदालत ने इंडियन मुजाहिदीन के आतंकवादी शहजाद अहमद को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। इस फैसले के विरुद्ध उसकी अपील सुप्रीम कोर्ट में लंबित चल रही है। दूसरी ओर मुठभेड़ के दौरान आरिज खान घटनास्थल से भाग गया था जिसे भगोड़ा घोषित कर दिया गया था। लेकिन 14 फरवरी 2018 को पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया था।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement