Connect with us

Hi, what are you looking for?

राज्य/ states

दिल्‍ली: राम मनोहर लोहिया अस्‍पताल के डॉक्‍टरों ने किया कोवैक्‍सीन लगवाने से इनकार, कोविशील्‍ड की मांग

देश में आज से कोविड टीकाकरण अभियान शुरू हुआ है। जिसमें दो वैक्‍सीन लगाई जा रही हैं। हालांकि इस दौरान विरोध के सुर भी सुनाई दे रहे हैं। दिल्‍ली आरएमएल के रेजिडेंट डॉक्‍टरों ने कोवैक्‍सीन के बजाय कोविशील्‍ड की मांग की है।

खबर शेयर करें

नई दिल्ली। देश भर में शनिवार से कोरोना टीकाकरण अभियान शुरू हो गया है। दो भारतीय कंपनियों द्वारा निर्मित टीका लोगों को दिया जा रहा है। वही इन वैक्सीन काे लेकर विवाद और विरोध भी शुरू हो गया है। ताजा मामले के अनुसार दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में टीकाकरण के लिए एक रेजिडेंट डॉक्टर के विरोध का मामला अब सामने आया है। आरएमएल के रेजिडेंट डॉक्टरों ने अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक को पत्र लिखकर कोवैक्‍सीन के बजाय कोविशील्‍ड इंजेक्शन लगाने को कहा है।

इस पत्र में रेजिडेंट डॉक्‍टरों की ओर से लिखा गया है, ‘हम सभी आरडीए आरएमएल अस्‍पताल के सदस्‍य हैं। हमें जानकारी मिली है कि आज अस्‍पताल में कोरोना वैक्‍सीन लगाने अभियान चलाया जा रहा है। इस दौरान सभी को सीरम इंस्‍टीट्यूट की कोविशील्‍ड के बजाय भारत बायोटेक की बनी कोवैक्‍सीन लगाई जा रही है। हम आपको ध्‍यान दिलाना चाहते हैं कि कोवैक्‍सीन के सभी ट्रायल पूरे नहीं होने की वजह से कुछ आशंकाएं हैं। इसे भारी संख्‍या में लगा भी दिया जाए तो इससे वैक्‍सीनेशन का लक्ष्‍य भी पूरा नहीं होगा। ऐसे में आपसे अपील है कि हम सभी को कोवैक्‍सीन के बजाया कोविशील्‍ड वैक्‍सीन लगाई जाए।

आपको बता दें कि आज से शुरू हुए कोरोना वैक्सीन टीकाकरण अभियान में दोनों ही वैक्‍सीन लगाई जा रही हैं। एम्‍स के कर्मचारियों और स्टॉफ को भी भारत बायोटेक की कोवैक्‍सीन ही लगाई गई है। ये अलग बात है कि एम्‍स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने एम्‍स में कोवैक्‍सीन को बैकअप के लिए रखी गई वैक्‍सीन बताया था जिसपर बवाल मचा और कंपनी भारत बायोटेक ने आपत्ति जताई थी।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: