Connect with us

Hi, what are you looking for?

राज्य/ states

अगरतला: हटाए गए शादी समारोह में तांडव मचाने वाले DM शैलेश कुमार यादव

इसी बात का खामियाजा डीएम शैलेश कुमार यादव को उठाना पड़ा। जिसके बाद अब उनको उनके पद से मुक्त कर दिया गया है।

खबर शेयर करें

अगरतला: शादी समारोह में घुसकर गुंडों की तरह तांडव मचाने वाले पश्चिमी त्रिपुरा जिले के डीएम शैलेश कुमार यादव को हटा दिया गया है। चौतरफा हो रहे दबाव को देखते हुए सरकार ने यह कदम उठाया है। आपको बता दें कि 26 अप्रैल [सोमवार] को रात साढ़े11 बजे पश्चिम त्रिपुरा जिले के डीएम शैलेश कुमार यादव [ dm shailesh yadav] ने एक मैरिज हॉल में घुसकर लोगों से जमकर बदतमीजी की थी।

पद के नशे में चूर डीएम शैलेश कुमार यादव ने शादी समारोह में घुसकर मेहमानों के साथ अभद्र व्यवहार किया। यहां तक की पंडित को तमाचा और लात भी मारी थी। जबकि दूल्हे को गर्दन से पकड़कर धक्का तक दे दिया था। डीएम 3 दर्जन से ज्यादा लोगों को लॉकडाउन का उलंघन करने के आरोप में हवालात में डलवा दिया था। इनमें दर्जन भर से ज्यादा महिलाए भी शामिल थी।

इसी बात का खामियाजा डीएम शैलेश कुमार यादव को उठाना पड़ा। जिसके बाद अब उनको उनके पद से मुक्त कर दिया गया है। हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि खुद डीएम शैलेश कुमार यादव ने मुख्य सचिव मनोज कुमार को पत्र भेजकर कहा था कि उनके खिलाफ विभागीय जांच चल रही है इसलिए उन्हें पश्चिम त्रिपुरा डीएम के पद से मुक्त कर दिया जाए।

यह था मामला

आपको बता दें कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए त्रिपुरा की बीजेपी सरकार ने राज्य में नाईट कर्फ्यू लगाया हुआ है। 26 अप्रैल को पश्चिमी त्रिपुरा जिले में देर रात एक शादी का आयोजन हो रहा था। शादी की रस्में चल रही थी। दुल्हन का फोटो शूट किया जा रहा था। इसी बीच डीएम शैलेश कुमार यादव दर्जनभर पुलिस वालों के साथ अचानक गुंडों की तरह मैरिज हॉल में आ धमके।

डीएम ने जिसको देखा उस पर हाथ उठाया। पुलिस वालों से भी डीएम ने लोगों को डंडे मारने के लिए कहा। डीएम शैलेश कुमार यादव का कहना था कि वो नाईट कर्फ्यू का पालन कराने के लिए निरीक्षण पर निकले थे। लेकिन वह पद की पावर के नशे में इतना चूर हो गए कि शादी समारोह में तांडव ही मचा दिया।

ये भी बता दे कि शादी वाले परिवार के पास खुद डीएम की दी हुई अनुमति पत्र भी था। जिसको दिखाने पर डीएम ने उसको फाड़कर परिजनों के ऊपर ही फेंक दिया था। इस पूरे मामले का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। जिसके बाद बॉलीवुड से लेकर कई दिग्गज नेताओं ने डीएम शैलेश कुमार यादव के व्यवहार पर आपत्ति जताते हुए उन्हें तुरंत हटाने की मांग की थी। चौतरफा दबाव को देखते हुए आखिरकार सरकार ने डीएम को उनके पद से हटा दिया है। सरकार के इस कदम पर पीडित परिवार और लोगों ने खुशी जाहिर की है।

देखिए डीएम के तांडव का वीडियो

ये भी पढ़ें- मेरठ: न्यूटीमा अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई रुकने से 5 मरीजों की मौत, जमकर हंगामा, तोड़फोड़

ये भी पढ़ें- शर्मनाक! शव ले जा रहे अंतिम यात्रा वाहन में भी पेट्रोल पंप पर डाला गया कम तेल‚ हंगामा और मारपीट

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement