Shamli: अवैध रूप से चल रही पटाखा फैक्ट्री में आग, वृद्ध महिला की मौत और कई लोग झुलसे

आग लगने की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची और घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया. पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आरोपी फैक्ट्री संचालक की तलाश शुरू कर दी है.

71

Shamli News: शामली में घनी आबादी के बीच दूसरी मंजिल पर चल रही अवैध पटाखा फैक्ट्री में भीषण आग लग गई. आग इतनी तेजी से फैली कि उसने वहां काम कर रही एक वृद्ध महिला को अपनी चपेट में ले लिया, जबकि तीन अन्य कर्मचारी घायल हो गए। आग लगने की सूचना मिलते ही फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर पहुंची और घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया. पुलिस ने महिला के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और आरोपी फैक्ट्री संचालक की तलाश शुरू कर दी है.

दरअसल, आपको बता दें कि यह हादसा शामली जिले के सदर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला दयानंद नगर में हुआ। यहां गली नंबर 5 में चौराहे पर विजेंद्र कुमार नाम के शख्स का मकान है. मकान की दूसरी मंजिल पर विजेंद्र के बेटे प्रिंस ने पटाखे रखने का गोदाम बना रखा था. बताया जा रहा है कि इसी की आड़ में यहां भारी मात्रा में पटाखे बनाए जा रहे थे. जिस वक्त फैक्ट्री में आग लगी उस वक्त आधा दर्जन से ज्यादा महिला-पुरुष काम कर रहे थे.

पटाखा फैक्ट्री में आग इतनी तेजी से फैली कि फैक्ट्री के अंदर काम कर रही 70 वर्षीय महिला करतारी की मौत हो गई. जबकि ज्वैलर्स के तीन कर्मचारियों का शामली के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। आग लगने की सूचना मिलते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और वहां मौजूद भीड़ को हटाया. फायर ब्रिगेड की टीम ने घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया. आग लगने के कारण पूरे इलाके में धुएं का गुबार उठ गया और लोगों को जलन महसूस होने लगी.