संवाददाता : सलीम फारूकी

उत्तर प्रदेश: शामली जनपद के थानाभवन क्षेत्र में सिलाई का काम करने वाले एक शादीशुदा व्यक्ति का किन्नरों ने प्राइवेट पार्ट काटकर बेहोशी की हालत में सड़क किनारे फेंका दिया। पीड़ित को पुलिस ने अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया है। पीड़ित में दो नामजद सहित चार अज्ञात के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

दरअसल, शामली जनपद के थानाभवन क्षेत्र के गांव सोंटा रसूलपुर निवासी शहजाद पुत्र जब्बार ने थाने पर एक प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि वह शादीशुदा व्यक्ति हैं। उसका एक बेटा व दो बेटी हैं और वह सिलाई का काम करके अपनी गुजर-बसर करता है। सिलाई के सिलसिले में उसकी जान पहचान किन्नर जब्बार, पिंकी और कालू उर्फ रेशमा निवासी गढ़ी पुख़्ता के साथ थी।

आरोप है कि वह थानाभवन में कपड़ा लेने के लिए आया था तभी पिंकी एवं रेशमा ने उसे कपड़ा लेने की बात कहते हुए शामली चलने की बात कही और रास्ते में पिंकी और रेशमा व चार अज्ञात लोगों ने चाय पीने का बहाना किया और उसे भी चाय पिला दी जिसके बाद वह बेहोश हो गया। उसे अगले दिन होश आया तो उसने अपने आप को थानाभवन क्षेत्र के दिल्ली-सहारनपुर नेशनल हाईवे मार्ग पर अर्पण पब्लिक स्कूल के पास सड़क किनारे पड़ा पाया।

पीड़ित का आरोप है इन सभी लोगों ने उसका प्राइवेट पार्ट काटकर उसका जीवन नरकीय बना दिया है। जैसे ही घटना का पता पुलिस को चला तो पुलिस ने उपचार के लिए पीड़ित को सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया। अब उसके जीवन पर संकट खड़ा हो गया है। पीड़ित ने दो नामजद एवं चार अज्ञात के खिलाफ तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। वहीं मामला क्षेत्र में चर्चा का विषय बना है।

Manoj Kumar