राजस्थान: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के पैर छूने पर महिला इंजीनियर को सरकार ने किया सस्पेंड

राष्ट्रपति के पैर छूने की कोशिश करती हुई महिला इंजीनियर

Security of President Draupadi Murmu: राजस्थान सरकार की एक इंजीनियर को सुरक्षा प्रोटोकॉल (security protocol) का उलंघन करते हुए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (President Draupadi Murmu) के पैर छूना भारी पड़ गया। राज्य की गहलौत सरकार ने महिला इंजीनियर ;female engineer) को सस्पेंड कर दिया है। इसके बाद पूरे राज्य में सरकार फैसले पर बहस छिड़ गई है।

यह भी पढ़ें- राजस्थान में 500 रूपए सस्ता होगा गैस सिलेंडर‚ चुनाव से पहले गहलौत सरकार का तौहफा

दरअसल, चार जनवरी को एक कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू एक कार्यक्रम में पहुंचीं थी। इस दौरान महिला इंजीनियर ने सुरक्षा प्रोटोकॉल को अनदेखा करते हुए राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के पैर छूने की कोशिश की। महिला इंजीनियर की इस हरकत पर कुछ पल के लिए कार्यक्रम में हड़कंप मच गया। सरकार ने इस पूरे मामले की जांच के आदेश दिए थे।

यह भी पढ़ें- राजस्थान: कमिश्नर पूजा मीणा ने IAS पवन अरोड़ा पर लगाया सेक्स रैकेट चलाने का आराेप‚ मचा हड़कंप

जांच पर फैसला लेते हुए सुरक्षा प्रोटोकॉल का उल्लंघन करने और उनके पैर छूने की कोशिश करने के मामले में शुक्रवार को सरकार ने महिला इंजीनियर को सस्पेंड कर दिया। आपको बता दें पब्लिक हेल्थ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट ने केंद्रीय गृह मंत्रालय के हस्तक्षेप के बाद इसे गंभीर मामला मानते हुए शुक्रवार को उक्त इंजीनियर के सस्पेंड कर दिया है।

स्काउट गाइड कार्यक्रम में पहुंचीं थीं राष्ट्रपति

पब्लिक हेल्थ इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट के मुख्य इंजीनियर के आदेश में कहा गया है कि विभाग की जूनियर इंजीनियर अंबा सियोल ने 4 जनवरी को रोहेत में स्काउट गाइड जंबोरी के उद्घाटन कार्यक्रम में पहुंचीं राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के पैर छूने की कोशिश की। जिसे प्रोटोकॉल का उल्लंघन माना गया। लिहाजा उन्हें राजस्थान लोक सेवा नियमों के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।