उत्तर प्रदेश: मेरठ की पाश कॉलोनी कमलानगर में सोमवार को दिन निकलते ही बदमाशों ने एक व्यापारी के घर में सिक्योरिटी गार्ड को बंधक बनाकर डकैती की वारदात को अंजाम दिया। बदमाश बागपत रोड स्थित कमला नगर में ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता के घर से 10 लाख रूपये कैश व लाखों रुपए के सोने चांदी के जेवरात ले गए है। इस पूरी वारदात को उसके नेपाली नौकर ने अपने साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया। हालांकि चर्चा यह है कि व्यापारी के घर से करोड़ों रुपए का सामान गया है।

जानकारी के अनुसार, रविवार को मेरठ के  कमलानगर निवासी व्यापारी प्रदीप गुप्ता की बेटी की सगाई का कार्यक्रम दिल्ली में चल रहा था। जिस कारण पूरा परिवार दिल्ली गया हुआ था। सोमवार सुबह उनको सूचना प्राप्त हुई कि रविवार रात उनके घर के सिक्योरिटी गार्ड को नशीला पदार्थ खिलाकर लाखो रुपए की डकैती डाली गई है। उनको बताया गया की रविवार शाम 6:00 बजे घर के नौकर नेपाली वीर बहादुर अपने कुछ साथियों को बुलाकर डकैती की वारदात को अंजाम दिया।

वारदात के बारे में बताया गया है कि नेपाली नौकर वीर बहादुर व उसके साथियों ने घर के बाहर सिक्योरिटी गार्ड को नशीला पदार्थ खिला दिया था जिसके चलते वह बेहोश हो गए और फिर बदमाशों ने घर में रखा 10 लाख कैश और सोने चांदी के आभूषण लेकर फरार हो गए। सोमवार सुबह घटना की जानकारी लगते ही कैंट के पूर्व विधायक सत्य प्रकाश अग्रवाल व्यापारी नेता, अजय गुप्ता, कमल दत्त शर्मा समेत शहर के अन्य व्यापारी गण कमला नगर में पहुंच गए। इस डकैती की घटना को लेकर व्यापारियों ने हंगामा करना शुरू कर दिया।
 

पुलिस का कहना है कि घर में नेपाली नौकर पांच दिन पहले ही सरदार सिद्धू के माध्यम से लगाया गया था। नौकर की कोई आईडी भी मकान मालिक और सरदार सिद्धू के पास नहीं मिली। घर के बाद सिक्योरिटी गार्ड मनोज और राकेश से भी पुलिस पूछताछ करने में जुटी हुई है। एसपी सिटी और एसपी क्राइम मौके पर फॉरेंसिक टीम को बुलाकर जांच की हैं।

Manoj Kumar