संवाददाता: प्रवीण सैनी

उत्तर प्रदेश: मेरठ के इंचौली थाना क्षेत्र के पबला गांव में शुक्रवार देर रात साधु की गला रेतकर हत्या कर दी गई। शनिवार सुबह साधु का शव घर से 300 मीटर दूर एक खेत में पड़ा मिला है। साधु की गर्दन पर धारदार हथियार से वार किए गए थे और शरीर के अन्य भागों पर भी चोट के निशान थे। साधु की हत्या को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने साधु के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार, इंचौली थाना क्षेत्र के पबला गांव में सुनीत जाटव (45) वर्ष पांच साल पहले साधु बन गए थे। वह गांव से डेढ़ सौ मीटर की दूरी पर स्थित अपने खेत में आश्रम बनाकर रहते और रात के समय वह घर पर आ जाते थे। परिजनों के मुताबिक शुक्रवार रात में जब वह घर पर नहीं आए तो परिजनों ने उनकी तलाश की।  लेकिन वह आश्रम पर या आसपास नहीं मिले।

शनिवार सुबह ग्रामीण खेतों में पहुंचे तो उनको साधु का शव घर से करीब तीन सौ मीटर की दूरी पर स्थित खेत में पड़ा मिला। साधु की गर्दन पर धारदार हथियार से वार किए गए थे और शरीर के अन्य भागों पर भी चोट के निशान थे। साधु की हत्या से गांव में हड़कंप मच गया। परिजनो ने घटना की जानकारी इंचौली थाना पुलिस को दी गई। सूचना पर इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार दुबे मयफोर्स मौके पर पहुंचे। इस दौरान ग्रामीणों ने साधु की हत्या को लेकर आक्रोश जताया। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया

इसके पश्चात भी घटना को लेकर काफी संख्या में ग्रामीण थाने पर इकट्ठा हो गए। परिजनों द्वारा इस मामले में तहरीर दी गई है। इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार दुबे का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है परिजनों द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर कार्यवाही की जाएगी। साधु की हत्या के बाद परिजनो का रो रोकर बुरा हाल है।

Manoj Kumar