Meerut: मेरठ के इंचोली थाना क्षेत्र के खरदौनी गांव से आए ग्रामीणों ने भावनपुर पुलिस पर वसूली का आरोप लगाते हुए एडीजी कार्यालय पर शव रख कर हंगामा किया। उन्होंने आरोप लगाया कि भावनपुर पुलिस ने ट्रक चोरी का आरोप में पिछली 22 नवंबर को रियाजुल को पकड़ा था।

नवंबर को थाने से छोड़ने पर उनसे तीन लाख रुपये की डिमांड की थी। जिसके कारण युवक के पिता नियाज मोहम्मद को तीन लाख की रिश्वत सुनते ही भावनपुर थाने में ही अटैक आ गया। उपचार के दौरान सोमवार सुबह उसकी मौत हो गई।

उन्होंने मांग की कि भावनपुर पुलिस के खिलाफ जांच की जाए और झूठा आरोप में बंद रियाजुल को जल्द से जल्द रिहा किया जाए । पुलिस अधिकारियों ने जांच कराने का आश्वासन दिया और शव को पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल भेजा।

आँखों देखी