उत्तराखंड/ उत्तर प्रदेश- उत्तराखंड में कुंडा के ग्राम भरतपुर में खनन माफिया की तलाश में दबिश देने पहुंची यूपी पुलिस ने जमकर तांडव मचाया और एक हंसता-खेलता परिवार तबाह कर दिया। दबिश देने पहुंची मुरादाबाद के ठाकुरद्वारा पुलिस और एसओजी टीम की फायरिंग में ब्लॉक प्रमुख की पत्नी की मौत हो गई। मृतक महिला के दो मासूम बच्चें हैं‚ जिनमें एक बच्चे की उम्र महज 4 माह है‚ जबकि दूसरी बच्ची पांच वर्ष की है। महिला की मौत के बाद इन मासूमों के सिर मां का साया छूट गया है।  

पति के साथ गुरजीत (फाइल फोटो)

वहीं सौम्य स्वभाव की गुरजीत की हत्या की खबर क्षेत्र की जनता को झकझोर कर रख दिया। बताया जा रहा है कि गुरजीत कौर सहकारी समिति की लिपिक भी थी। ब्लॉक प्रमुख की पत्नी की मौत के बाद पूरे क्षेत्र में गम और गुस्सा फैला हुआ है।  जिसके चलते पुलिस के हाथ-पांव फूले हुए हैं। 

क्या थ पूरा मामला

दरअसल बुधवार रात यूपी पुलिस पचास हजार रुपये के इनामी खनन माफिया की तलाश में उत्तराखंड के कुंडा के ग्राम भरतपुर में दबिश देने पहुंची थी। इस दौरान पुलिस की ग्रामीणों से भिड़ंत हो गई। बताया जा रहा है कि इस दौरान दोनों तरफ से हुई फायरिंग हुई। इस फायरिंग में सहकारी समिति की लिपिक और जसपुर के ज्येष्ठ उपप्रमुख (ब्लॉक प्रमुख) की पत्नी गुरजीत कौर की मौत हाे गई।

सूचना पर दबिश देने गई थी यूपी पुलिस

मुरादाबाद जनपद की ठाकुरद्वारा पुलिस को सूचना मिली थी कि 13 सितंबर को पुलिस दल पर हमला करने वाला एक इनामी खनन माफिया थाना डिलारी ग्राम कांकरखेड़ा निवासी जफर ग्राम भरतपुर में जसपुर के ज्येष्ठ उपप्रमुख गुरताज सिंह भुल्लर के यहां छिपा हुआ है। इस सूचना पर ठाकुरद्वारा कोतवाल योगेंद्र सिंह के नेतृत्व में पुलिस और एसओजी की टीम ने बुधवार की शाम भुल्लर के फार्म हाउस की घेराबंदी कर ली। सादे कपड़ों में अनजान लोगों को देखकर परिजनों ने उन्हें ललकारा। पुलिस के अनुसार ग्रामीण हमलावर हो गए। इस दौरान दोनों तरफ से हुई फायरिंग में ड्यूटी कर घर लौट रही गुरताज की पत्नी गुरजीत कौर (28) को गोली लग गई। बताया जा रहा है कि फायरिंग में पांच पुलिस कर्मी घायल हुए हैं।

पति के लिए व्रत भी नही रख पायी गुरजीत कौर

आज करवा चौथ पर सुहाग की लंबी उम्र की दुआ करने से पहले ही मौत ने उनके घर दस्तक दे दी। गुरजीत कौर ने बुधवार को ही करवां चौथ की तैयारियां की थी। वह एक दिन पहले ही हाथों में मेहंदी और नए कपड़े खरीदकर लायी थी। लेकिन ऊपर वाले को कुछ और ही मंजूर था।  गुरुवार दोपहर को गुरजीत का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग नम आंखों से गुरजीत को अंतिम विदाई देने पहुंचे। गुरजीत की मौत से परिजन बिखर गए हैं। उसकी पांच साल की एक बेटी है और चार माह पूर्व ही उसने एक बेटे को जन्म दिया था।

पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज‚ जांच जारी

पत्नी की हत्या के मामले में गुरजीत कौर के पति ब्लॉक प्रमुख गुरताज सिंह ने कुंडा थाना में मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस को दी तहरीर में भरतपुर निवासी गुरजीत के पति गुरताज ने कहा है कि 12 अक्तूबर की शाम करीब साढ़े छह बजे उनके घर दो गाड़ियों से 10-12 लोग पहुंचे और खुद को पुलिस बताते हुए फायरिंग की। जिसमें उनकी पत्नी की जान चली गई। मामले में ऊधमसिंह नगर पुलिस को गंभीरता से जांच करने के निर्देश दिए गए हैं। गोली किस ओर से पहले चली, इस बात की भी जांच की जा रही है। दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।

आँखों देखी