Connect with us

Hi, what are you looking for?

j&k

कश्मीर में जारी है आतंक पर प्रहार, घाटी में इस साल अब तक 144 आतंकी ढेर

IGP(कश्मीर) विजय कुमार(IGP Vijay Kumar) ने बुधवार को यह जानकारी दी। कुमार ने कहा, “पिछले साल मुठभेड़ों के दौरान 207 आतंकवादी मारे गए थे और क्रॉस फायरिंग में केवल एक नागरिक मारा गया था।”

खबर शेयर करें
Indian soldiers

भारत और पाकिस्तान(India and Pakistan) के बीच LOC पर संघर्ष विराम समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं। हालांकि पड़ोसी देश(neighboring country) अब भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। इसका खामियाजा(brunt) उसे भुगतना पड़ रहा है। भारतीय जवानों(Indian soldiers) ने इस साल अब तक विभिन्न मुठभेड़ों में 144 आतंकियों(144 terrorists) को ढेर किया है। इस दौरान दो नागरिकों(citizens) की भी मौत हो गई।

यह भी पढें-किसानों के ट्रैक्टर मार्च को लेकर पुलिस का रुख साफ- विरोध से नहीं आपत्ति, न बिगड़े कानून व्यवस्था

IGP(कश्मीर) विजय कुमार(Vijay kumar) ने बुधवार को यह जानकारी दी। कुमार ने कहा, “पिछले साल मुठभेड़ों के दौरान 207 आतंकवादी मारे गए थे और क्रॉस फायरिंग में केवल एक नागरिक मारा गया था।” उन्होंने कहा कि पिछले दो वर्षों में मुठभेड़ों के दौरान केवल तीन नागरिक क्रॉस फायरिंग में मारे गए और यह पिछले तीन दशकों में सबसे कम है।

11 जवान शहीद
सीआरपीएफ के एक अधिकारी ने बताया है कि इस साल आतंकियों से मुठभेड़ में सीआरपीएफ के कुल 11 जवान शहीद हुए हैं. बताया गया कि पिछले सात दिनों में कुल 27 वामपंथी चरमपंथियों को पकड़ा गया है. इनमें से 13 छत्तीसगढ़ से, तीन बिहार से और 11 झारखंड से गिरफ्तार किए गए।

सीआरपीएफ ने इन आतंकियों से मुठभेड़ में मारे गए लोगों को दी जाने वाली अनुग्रह राशि की भी फिर से समीक्षा की है। इसे 21.5 लाख से बढ़ाकर 35 लाख कर दिया गया है। इसके अलावा दूसरे मामले में रिस्क फंड को 16.5 लाख रुपये से बढ़ाकर 21.5 लाख रुपये किया गया है। यह फैसला सीआरपीएफ की गवर्निंग बॉडी की सालाना बैठक में लिया गया है।

TRF कमांडर समेत 3 ढेर
जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर में बुधवार को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में ‘द रेजिस्टेंस फ्रंट’ के एक शीर्ष कमांडर सहित तीन आतंकवादी मारे गए। पुलिस ने कहा कि आज शाम रामबाग इलाके में एक संक्षिप्त मुठभेड़ में तीन आतंकवादी मारे गए। पुलिस के एक ट्वीट में कहा गया, ‘पुलिस ने श्रीनगर में तीन आतंकियों को ढेर किया। मारे गए आतंकवादियों और वे किस संगठन से संबंधित थे, इसकी पहचान की जा रही है।

आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि मारे गए आतंकवादियों में से एक की पहचान टीआरएफ कमांडर मेहरान यासीन शाला के रूप में हुई है, जो श्रीनगर में नागरिकों की हत्याओं में शामिल था। इसकी हत्या श्रीनगर में आतंकियों के लिए एक बड़ा झटका है. इस घटना के बाद श्रीनगर के अलग-अलग इलाकों से भी बंद और विरोध प्रदर्शन की खबरें आ रही हैं.

यह भी पढें-नौसेना के बेड़े में शामिल हो रहा INS वेला, इस विध्वंसक पनडुब्बी के बारे में जानिए

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: