जम्मू-कश्मीर: नियंत्रण रेखा पर गश्त के दौरान खाई में गिरने से तीन जवान शहीद

शहीद जवान, फोटो साभार सोशल मीडिया

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा पर गश्त के दौरान गहरी खाई में गिरने से तीन जवानों की जान चली गई। सेना ने बुधवार को इसकी जानकारी दी। शहीद जवानों में एक जूनियर कमीशंड अधिकारी (जेसीओ) भी शामिल हैं। तीनों जांबाजों के पार्थिव शरीर बरामद कर अंतिम संस्कार के लिए उनके पैतृक स्थानों पर ले जाया जा रहा हैं।

सैन्य अधिकारी ने बताया कि एक माछिल सेक्टर में 10 जनवरी (मंगलवार) की शाम नियमित गश्त की जा रही थी। भारी बर्फबारी होने के कारण रास्ते में ट्रैक टूट गया जिसका सैनिकों को पता नहीं चला।  चौकी की तरफ जा रहे तीन जवान (एक जेसीओ और दो जवान) गहरी खाई में जा गिरे। घटना के बाद तुरंत बाद निकटतम चौकी के सैनिकों ने अन्य जवानों के साथ मिलकर खोज अभियान शुरू किया गया।
रेस्क्यू टीम को सुबह तीनों के पार्थिव शरीर बरामद हुए।

जान गंवाने वाले सैनिकों की पहचान नायब सूबेदार पुरुषोत्तम कुमार (43) निवासी ग्राम मजुआ उत्तमी, पोस्ट रायका, तहसील, बिश्नाह जम्मू के रहने वाले हैं। वह 1996 में सेना में शामिल हुए थे। उनके परिवार में पत्नी और दो बच्चे हैं।

दूसरे सैनिक हवलदार अमरीक सिंह (39) निवासी ग्राम मंडवारा, पोस्ट मारवाड़ी, तहसील घनारी, जिला ऊना, हिमाचल प्रदेश के रहने वाले थे। वह 2001 में सेना में शामिल हुए थे। उनके परिवार में उनकी पत्नी और एक बेटा है।

तीसरे सैनिक अमित शर्मा (23) निवासी  ग्राम तलसी खुर्द, पोस्ट किर्विन, तहसील हमीरपुर, जिला हमीरपुर हिमाचल प्रदेश के रहने वाले थे। वे 2019 में सेना में शामिल हुए थे। परिवार में उनकी मां है। तीनों जांबाजों के पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए उनके पैतृक स्थानों पर ले जाया जा रहा है।