Connect with us

Hi, what are you looking for?

देश

एंटी करप्शन टीम का छापा पड़ने से पहले तहसीलदार ने रिश्वत में मिले 20 लाख रुपयों में लगा दी आग

anti-corruption
जले नोटों के साथ आरोपी तहसीलदार

जयपुर: हैरान कर देने वाली खबर राजस्थान के सिरोही जिले से है जहां भ्रष्टाचार से जुड़ा एक का ऐसा मामला सामने आया है जिसे सुनकर आप अपने दांतों तले उंगलिया दबा लेंगे। यहां anti-corruption ब्यूरो की कार्यवाही से बचने और सबूत मिटाने के लिए एक भ्रष्ट तहसीलदार ने रिश्वत में मिले करीब 20 लाख रूपयों में आग लगा दी।

दरअसल भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की एक टीम ने बुधवार को पिंडवाडा के राजस्व निरीक्षक परबत सिंह को एक लाख रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था। पूछताछ में आरोपी परबत सिंह ने बताया था कि रिश्वत की राशि वह पिंडवाड़ा के तहसीलदार कल्पेश कुमार जैन के कहने पर वसूल रहा था। इसके बाद टीम तहसीलदार के आवास पर पहुंची। लेकिन इससे पहले ही तहसीलदार कल्पेश जैन को इसकी भनक लग गई।

ये भी पढ़ें- गाजियाबाद मेरठ के बाद अब delhi के होटल में थूक लगाकर रोटी बनाने का विडियो हुआ वायरल

बताया जा रहा है कि जब पिंडवाड़ा के तहसीलदार कल्पेश जैन के घर पर टीम छापेमारी के लिए पहुंची तो वह अंदर 20 लाख रुपये की रकम गिन रहा था। लेकिन जब उसे पता चला की एंटी करप्शन ब्यूरों का छापा पड़ा है तो वो आनन-फानन में नोटों को चूल्हे में जलाने लगा। नोटों को आग के हवाले करने का यह नजारा एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने देखा और इसका वीडियो भी बना लिया गया। वीडियो में तहसीलदार की पत्नी भी नोटों को जलाने में सहयोग करती दिख रही हैं।

बताया जा रहा है कि एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम तहसीलदार के निवास पर उसे गिरफ्तार करने पहुंची थी। लेकिन उससे पहले ही वो घर के दरवाजे बंद करके चूल्हे पर रिश्वत में मिले 20 लाख रूपए जला रहा था। टीम ने बताया कि तहसीलदार को गिरफ्तार कर लिया गया है। वही 500 रुपये के नोटों की गड्डियों को जली हालत में गैस-चूल्हे सहित कब्जे में ले लिया गया है।
स्थानीय पुलिस ने बताया है कि तहसीलदार के निवास पर तलाशी में एक लाख 50 हजार रुपये सही सलामत बरामद किये गये है। इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच की जा रही है।

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement