फोटो साभार सोशल मीडिया

कोरोना(Corona) के नए वेरियंट ओमाइक्रोन(new variant Omicron) की दस्तक ने दुनिया को चिंतित कर दिया है। कोरोना का यह रूप अब तक 23 देशों में फैल चुका है। इसमें अमेरिका(America) भी शामिल है। चौंकाने वाली बात यह है कि अमेरिका के कैलिफोर्निया(California) में जो शख्स ओमिक्रॉन(Omicron) से संक्रमित हुआ है, उसने कोविड वैक्सीन(Covid Vaccine) की दोनों डोज ले ली थीं।

यह भी पढें- Omicron से बढ़ी चिंता, साउथ अफ्रीका और अन्य हाई रिस्क वाले देशों से भारत लौटे 6 लोग मिले कोरोना संक्रमित

विश्व स्वास्थ्य संगठन(WHO) के प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस ने बुधवार को कहा कि 23 देशों में कोरोना के नए रूप सामने आए हैं। मामलों में वृद्धि के साथ, इन देशों की संख्या अब बढ़ सकती है।

इन देशों में फैला वेरिएंट: देखें कहां कितने केस

कोरोना के नए रूप को और अधिक संक्रामक बताया जा रहा है। यह पहली बार नवंबर में अफ्रीका में सामने आया था। अब तक 23 देशों में इसकी पुष्टि हो चुकी है। आइए जानते हैं, कहां कितने मामले सामने आए हैं।

देश केस
अमेरिका 1 मामला
ऑस्ट्रेलिया 7 मामले
ऑस्ट्रिया 1 मामला
बेल्जियम 1 मामले
बोत्सवाना 19 मामले
ब्राजील 2 मामले
कनाडा 6 मामले
चेक गणराज्य 1 मामले
डेनमार्क 4 मामले
फ्रांस 1 मामले
जर्मनी 9 मामले

यह भी पढें-Omicron से मुकाबले को भारत कितना तैयार, जानिए आपके राज्य ने क्या की तैयारी

हॉन्ग कॉन्ग 4 मामले
इज़राइल 4 मामले
इटली 9 मामले
जापान 2 मामले
नीदरलैंड्स 16 मामले
नाइजीरिया 3 मामले
नॉर्वे 3 मामले
पुर्तगाल 13 मामले
सऊदी अरब 1 मामले
स्पेन 2 मामले
दक्षिण अफ्रीका 77 मामले
स्वीडन 3 मामले
याके 22 मामले

अमेरिका में भी मिला केस
अमेरिका में भी ओमाइक्रोन का पहला मामला सामने आया है। यहां पहला मामला कैलिफोर्निया में मिला है। यह व्यक्ति कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद संक्रमित हुआ है। हालांकि, उसके हल्के लक्षण हैं और अब वह ठीक हो रहा है।

भारत में अभी तक पुष्टि नहीं हुई है

भारत में ओमाइक्रोन वैरिएंट का एक भी मामला सामने नहीं आया है। हाल ही में स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने संसद में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा था कि यह सुनिश्चित करने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं कि नया संस्करण भारत में न आए। हालांकि, भारत में कई संदिग्ध मामले सामने आए हैं। बुधवार को लंदन और एम्सटर्डम से आए चार यात्री दिल्ली एयरपोर्ट पर कोरोना संक्रमित पाए गए, इन सभी की आरटीपीसीआर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उनके नमूने जीनोम अनुक्रमण के लिए भेजे गए हैं और मरीजों को एलएनजेपी में भर्ती कराया गया है।

यह भी पढें-दावा: 31 दिसंबर तक चलेगा ‘हर घर दस्तक’ अभियान, 100 प्रतिशत लोगों को दिया जाएगा कोरोना का पहला टीका

Bharti Sharma

Bharti Sharma

Next Story