New delhi: आलोचना बर्दाश्त नही कर पा रही है मोदी सरकार‚ डॉक्यूमेंट्री जारी करने पर BBC के ठिकानो पर छापेमारी

41
BBC के दफ्तर पर की गई छापेमारी

नई दिल्ली: देश में लगता है कि अब आपातकाल लागू हो गया है। क्योंकि माेदी सरकार अपने खिलाफ उठने वाली हर आवाज को कुचलने का प्रयास कर रही है। विपक्ष के बाद अब सरकार के निशाने पर वो मीडिया संस्थान हैं जो उसके खिलाफ कंटेंट चला रहे हैं। इसी क्रम में मंगलवार को दिल्ली में बीबीसी के दफ्तर पर इनकम टैक्स की छापेमारी की गई है। बीबीसी के दफ्तर पर कई घंटे तक छोपमारी की कार्रवाई की गई।

बताया जा रहा है कि बीबीसी ऑफिस में आए कर्मचारियों के फोन आयकर विभाग ने रखवा लिए और दफ्तर में एंट्री भी बंद कर दी गई है। हालांकि, इस छापेमारी को लेकर अभी कोई आधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है। दिल्ली के साथा-साथ आयकर विभाग ने बीबीसी के मुंबई दफ्तर में छापेमारी की हैं। मुंबई में बीबीसी का ब्यूरो है। इस बीच, कांग्रेस ने आयकर विभाग की कार्रवाई को अघोषित आपातकाल बता दिया है।

एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने जताई चिंता

आपको बता दें कि कुछ दिन पहले ही बीबीसी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र को लेकर एक डॉक्यूमेंट्री जारी की थी। इसमें गुजरात दंगों को लेकर मोदी की भूमिका पर सवाल उठाए गए थे। हालांकि मोदी सरकार ने इसे बैन करा दिया था। ऐसे में बीबीसी के दफ्तर पर इस तरह छापेमारी किया जाना बदले की कार्रवाई मानी जा रही है। हालांकि बीबीसी ने जांच में पूरा सहयोग देने की बात कही है। वहीं एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने बयान जारी कर आयकर विभाग की ओर से की गई छापेमारी पर गहरी चिंता व्यक्त की है। एडिटर्स गिल्ड ऑफ इंडिया ने बयान जारी करते हुए कहा है कि सरकार की आलोचना करने वाले निशाने पर मीडिया संस्थान निशाने पर लिए जा रहे हैं जो बेहद चिंताजनक हैं।

कांग्रेस ने कहा अघोषित आपातकाल

इस कार्रवाई के बाद कांग्रेस के हैंडल से ट्वीट कर कहा गया है, पहले बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री आई, उसे बैन किया गया। अब बीबीसी पर आईटी का छापा पड़ गया है, अघोषित आपातकाल। कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने बीबीसी पर आयकर की कार्रवाई पर कहा कि यहां हम यहां अडानी के मामले में जेपीसी की मांग कर रहे हैं और वहां सरकार बीबीसी के पीछे पड़ गई है। गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी पर बीबीसी ने गुजरात दंगे पर एक डॉक्यूमेंट्री रिलीज की थी। इस इस डॉक्यूमेंट्री पर केंद्र सरकार ने कुछ दिन पहले रोक लगा दी थी। India: The Modi Question को सोशल मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म से बैन करने का आदेश दिया था। आयकर विभाग की कार्रवाई को इससे भी जोड़कर देखा जा रहा है।

इन मीडिया संस्थानो पर कार्रवाई कर चुकी है मोदी सरकार

आपको बता दें कि मोदी सरकार की यह कोई पहली कार्रवाई नही है। इससे पहले मोदी सरकार दैनिक भास्कर और भारत समाचार के खिलाफ भी आयकर विभाग की कार्रवाई कर चुकी है। फरवरी 2021 में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने न्यूज क्लिक के कार्यालय पर छापेमारी की थ।  इनमें से हर एक मामले में छापेमारी और सर्वे की कार्रवाई सरकार के खिलाफ समाचार संस्थानों की ओर से की गई आलोचनात्मक कवरेज को लेकर हुई थी।