कोविड से नही “भारत जोड़ो यात्रा” से डरी हुई है मोदी सरकार: राहुल गांधी

New Delhi:  केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीया ने बुधवार कांग्रेस को एक पत्र लिखा था‚ जिसमें कोविड का हवाला देते हुए उसकी “भारत जोड़ो यात्रा” को स्थगित करने का अनुरोध किया गया था।  इस पत्र के जवाब में पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को एक सभा के दौरान अपनी प्रतिक्रिया दी है।

राहुल गांधी

राहुल गांधी ने कहा है कि भारत सरकार कोविड से नहीं डरी‚  बल्कि “भारत जोड़ो यात्रा” से डरी हुई है।  राहुल गांधी ने कहा है कि “भारत जोड़ो यात्रा” को रोकने के लिए मोदी सरकार ने कोविड का बहाना बनाया है। उन्हाेने कहा है मोदी सरकार कोविड का सहारा लेकर भारत जोड़ो यात्रा रोकना चाह रही है।

राहुल गांधी के अलावा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है।  उन्होंने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी को अपने जुलूस से कोई परेशानी नहीं है‚  उन्हें केवल कांग्रेस की “भारत जोड़ो यात्रा” से दिक्कत हो रही है। 

भारत जोड़ो यात्रा में उमड़ रहा है जन सैलाब

आपको बता दें कि बुधवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडवीया ने एक पत्र जारी कर कांग्रेस से अनुरोध किया था कि वह कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए भारत जोड़ो यात्रा को फिलहाल स्थगित कर दें।  यह पत्र सामने आने के बाद कांग्रेस पार्टी भाजपा पर चारों तरफ हमलावर हो गई है। 

गुरूवार को एक सभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि यह भाजपा का नया आईडिया है।  उन्होंने मुझे पत्र लिखा है कोविड आ रहा है‚  तो यात्रा को बंद कर दो।  राहुल गांधी ने कहा कि वह यात्रा रोकने का बहाना बना रहे हैं। आगे राहुल ने कहा कि यह लोग हिंदुस्तान की शक्ति और हिंदुस्तान की सच्चाई से डर गए हैं यही सच्चाई है।

सलमान खुर्शीद ने कहा नही रूकेगी यात्रा

इस मामले में कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने भी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा है कि “भारत जोड़ो यात्रा” रुकने वाली नहीं है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपनी यात्रा में कोविड से बचाव संबंधी तमाम सावधानियां का पालन कर रही है और हर हाल में यात्रा सुचारू रखेगी।  उन्होंने कहा कि यात्रा नहीं रुकेगी‚ नहीं रुकेगी। खुर्शीद ने कहा कि लोकतांत्रिक व्यवस्था में हर पार्टी और हर व्यक्ति को अपनी बात कहने का अधिकार है।  कांग्रेस की यात्रा से सरकारी डरी हुई है इसलिए डराया जा रहा है।