फोटो साभार सोशल मीडिया

बिजनौर: यूपी(UP) के बिजनौर(Bijnor) में सिंचाई विभाग में भ्रष्टाचार(corruption in irrigation department) का पर्दाफाश तब हुआ जब नवनिर्मित सड़क का उद्घाटन(road opening) करने पहुंचे भाजपा विधायक सुचि चौधरी(BJP MLA Suchi Choudhary) ने सड़क पर नारियल तोड़ने का प्रयास किया. तो नारियल नहीं टूटा, लेकिन सड़क जरूर टूटी। यह नजारा देख विधायक भड़क गए और उनके समर्थकों ने सिंचाई विभाग(Irrigation Department) के खिलाफ जमकर हंगामा किया. इसके बाद नाराज विधायक धरने पर बैठ गए। जिसके बाद पीडब्ल्यूडी अधिकारियों(PWD officers) ने गुरुवार रात ही सड़क का सैंपल लिया तो विधायक ने धरना समाप्त कर दिया.

Bijnor Corruption in Road Construction:बिजनौर जिले के सिंचाई विभाग के अधिकारी और ठेकेदार भाजपा के ‘ईमानदार, मजबूत काम’ के नारों को तोड़ रहे हैं. दरअसल, हल्दौर थाना क्षेत्र के खेड़ा अजीजपुरा गांव में बिजनौर सदर विधानमंडल सूची के विधानसभा क्षेत्र में सिंचाई विभाग द्वारा एक की करोड़ 16 लाख 38 हजार लागत से नहर ट्रैक पर साढ़े सात किलोमीटर लंबी सड़क बनाई जा रही है. । सड़क का कार्य मात्र 700 मीटर ही पूरा हो पाया और विभाग में सड़क का उद्घाटन कराने के उद्देश्य से सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने सदर विधायक सूची चौधरी को सड़क निर्माण शुरू करने के लिए बुलाया. सदर विधायक सूची चौधरी भी अपने लश्कर के साथ सड़क का उद्घाटन करने मौके पर पहुंचे तो जैसे ही उन्होंने नारियल को सड़क पर पटक दिया, नारियल तोड़ने की बजाय सड़क टूट गई. नारियल से सड़क तोड़ी जाने पर विधायक भड़क गए और विभाग के कर्मचारियों पर घटिया सामग्री का प्रयोग करने और घोटाले का आरोप लगाते हुए धरने पर बैठ गए.

डीएम ने गठित की जांच टीम
विधानमंडल के धरने की सूचना पर बिजनौर प्रशासन में हड़कंप मच गया। सूचना पर डीएम बिजनौर ने तत्काल जांच टीम गठित कर विधायक को अच्छी सामग्री से सड़क निर्माण कार्य कराने का आश्वासन दिया. फिलहाल बिजनौर जिला अधिकारी उमेश कुमार द्वारा गठित टीम मामले की जांच कर रही है. विधायक सूची चौधरी ने सिंचाई विभाग के जेई, एसडीओ और कार्यपालक अभियंता पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि इन अधिकारियों की मिलीभगत से सड़क पर घोटाला किया जा रहा है. विधायक ने घोटाले में शामिल सभी लोगों के खिलाफ उचित कार्रवाई की मांग की है।

यह भी पढें-कर्नाटक के बाद दिल्ली पहुंचा Omicron Variant? अस्पताल में भर्ती किए गए 12 संदिग्ध मरीज

Bharti Sharma

Bharti Sharma

Next Story