राजस्थान में 500 रूपए सस्ता होगा गैस सिलेंडर‚ चुनाव से पहले गहलौत सरकार का तौहफा

जयपुर: महंगाई की मार के बीच राजस्थान के लोगों के लिए एक बड़ी राहत की खबर है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ऐलान किया है कि राजस्थान में 1 अप्रैल से रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें 500 तक कम होंगी. अप्रैल में गहलोत सरकार गरीबी रेखा से नीचे के लोगों और उज्ज्वला योजना में नामांकित लोगों के लिए 500 रुपये में रसोई गैस सिलेंडर उपलब्ध कराएगी.

गैस सिलेंडर

 

भाजपा की परोक्ष रूप से आलोचना करते हुए मुख्यमंत्री ने आज राहुल गांधी की उपस्थिति में यह घोषणा की. राजस्थान में अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं.

गहलोत ने कहा, “.. अभी, मैं केवल एक ही बात कहना चाहता हूं. उज्ज्वला योजना के तहत, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीबों को एलपीजी कनेक्शन और गैस चूल्हा तो देते हैं, लेकिन सिलेंडर खाली रहता है. क्योंकि इसकी कीमत अब 400 से बढ़कर 1,040 हो गई हैं.”

गरीब परिवार इस सब्सिडी का इस्तेमाल एक साल में 12 सिलेंडर के लिए कर सकते हैं. यह 1 अप्रैल से बजट पेश होने पर लागू होगा.

अशोक गहलोत ने स्पष्ट रूप से इस घोषणा के साथ राजनीतिक गेंद को लुढ़का दिया है. क्योंकि राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ राजस्थान से निकलकर हरियाणा में प्रवेश करने की तैयारी में है. उन्होंने अपनी पार्टी और विशेष रूप से प्रतिद्वंद्वी सचिन पायलट को राजनीतिक संकेत भी दिया है कि वह मुख्यमंत्री बने रहेंगे और चुनावी बजट पेश करेंगे.

अलवर में आज भी राहुल गांधी का भाषण गहलोत सरकार की उपलब्धियों पर केंद्रित रहा. राहुल गांधी ने राजस्थान में अंग्रेजी माध्यम के स्कूल खोलने पर कांग्रेस सरकार की तारीफ की. उन्होंने कहा कि भाजपा नेता नहीं चाहते कि स्कूलों में अंग्रेजी पढ़ाई जाए. लेकिन उनके सभी नेताओं के बच्चे अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में जाते हैं. दरअसल, वे नहीं चाहते कि गरीब किसानों और मजदूरों के बच्चे अंग्रेजी सीखें, बड़े सपने देखें और खेतों से बाहर निकलें.

कांग्रेस सांसद ने कहा कि यदि आप बाकी दुनिया के लोगों से बात करना चाहते हैं, तो हिंदी नहीं चलेगी, अंग्रेजी चलेगी. हम चाहते हैं कि गरीब किसानों और मजदूरों के बच्चे जाएं और अमेरिकियों के साथ प्रतिस्पर्धा करें और उनकी भाषा का उपयोग करके उन्हें जीतें. मुझे खुशी है कि राजस्थान में 1700 अंग्रेजी माध्यम के स्कूल खोले गए हैं.