Connect with us

Hi, what are you looking for?

देश

Bharat Bandh Updates: जानिए कैसा रहा किसानों के भारत बंद का असर‚ कौन-कौन सी सेवाएं हुई ज्यादा प्रभावित

New Delhi: केंद्र सरकार द्वारा किसानाें पर जबरन थोपे गए तीन नए कृषि सुधार कानूनों के खिलाफ नवंबर से प्रदर्शन कर रहे किसानों ने शुक्रवार को भारत बंद [Bharat Bandh] का आह्वान किया. ये आह्वान संयुक्त किसान मोर्चा ने किया. जिसके तहर किसानों ने कई राज्यों में प्रदर्शन बंद के तहत प्रदर्शन किया. बंद का असर कुछ राज्यों में प्रभावी रहा तो कुछ राज्यों में इसका आंशिका असर देखा गया. पंजाब-हरियाणा में रेल सेवाएं ठप रही. तो हरिद्वार-दिल्ली हाईवे सहित देश में कई जगहों पर किसानों ने चक्का जाम किया.

Bharat Bandh Updates: मिला-जुला रहा किसानों के भारत बंद असर‚ रेल सेवाएं हुई सबसे ज्यादा प्रभावित

राजधानी दिल्ली के आसपास कई इलाकों में किसान प्रदर्शन करते दिखे. किसानों ने सुबह में ग़ाज़ीपुर के पास NH 9 बंद कर दिया. इसके पहले बीच में पुलिस ने ये रास्ता खुलवाया दिया था. किसानों के रास्ते बंद करने के बाद पुलिस ने भी बैरीकेड लगा दिए हैं. दिल्ली-गाजीपुर बॉर्डर को पुलिस ने बंद कर दिया गया.

भारत बंद का ओडिशा में आंशिक प्रभाव
कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसान यूनियनों द्वारा शुक्रवार को आहूत भारत बंद का ओडिशा में आंशिक प्रभाव रहा. राज्य में कुछ स्थानों पर प्रदर्शनकारियों ने सड़कों को अवरुद्ध कर दिया और रेल पटरियों को जाम कर दिया. कुछ स्थानों पर दुकान और बाजार बंद रहे. संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने दिल्ली के सिंघू, गाजीपुर और टीकरी बॉर्डर पर जारी किसान आंदोलन के चार महीने पूरे होने पर सुबह छह बजे से लेकर शाम छह बजे तक बंद का आह्वान किया.

Bharat Bandh Updates : हरिद्वार-दिल्ली हाईवे बंद

भारत बंद के चलते हाईवे पर लगी वाहनों की लंबी कतारें


किसानों ने कई जगहों पर चक्का जाम कर किया. मेरठ में किसानों ने नेशनल हाइवे- 58 बंद कर प्रदर्शन किया. वहीं, हरिद्वार-दिल्ली हाइवे भी बंद किया गया, जिससे कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया. मुज़फ्फरनगर में भी किसानों ने हाइवे बंद किया.

सबसे ज्यादा रेल सेवाएं हुई प्रभावित

किसानों के भारत बंद का सबसे ज्यादा प्रभाव रेलवे पर पड़ा. रेलवे पुलिस अधिकारी होशियार सिंह ने बताया कि बंद के चलते 10 एक्सप्रेस ट्रेन और 50 से ज्यादा मालगाड़ी प्रभावित हुई हैं. कई जगहों पर रेलों का परिचालन बंद किया गया और सुरक्षा के लिए रेलवे पुलिस मुस्तैद किया गया.

Farmers Protests : किसान नेताओं की चेतावनी
बंद के दौरान किसान नेता बूटा सिंह ने कहा कि किसान संगठन आंदोलन और तेज करेंगे और सरकार को कृषि कानून वापिस लेने ही होंगे. किसान नेता बोले कि उन्हें सभी यूनियनों का सहयोग मिल रहा है. अगर कृषि कानून वापिस नही हुए तो पूरे देश को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर देंगे.

Bharat Bandh Updates : पंजाब-हरियाणा में ट्रेन सेवाएं बिल्कुल ठप
आरपीएफ के डीजी अरुण कुमार ने बताया कि पंजाब हरियाणा में ट्रेनों का परिचालन बिल्कुल बंद हो गया. करीब 27 ट्रेनें पंजाब-हरियाणा में प्रभावित हुई. टिकरी बॉर्डर के किसान बहादुरगढ़ स्टेशन पर प्रददर्शन करते रहे. उन्होंने बताया कि कुल 34 ट्रेनों पर असर हुआ है. 15 ट्रेनें हरियाणा में, 12 ट्रेनें  पंजाब में और 3 ट्रेनें बिहार में प्रभावित हुई हैं. हालांकि शाम तक कहीं से हिंसा की खबर नहींं मिली.

कई मेट्रो स्टेशनों पर भी यातायात प्रभावित
डीएमआरसी ने जानकारी दी कि पहले टिकरी बॉर्डर, पंडित श्री राम शर्मा, बहादुरगढ़ सिटी और ब्रिगेडियर होशियार सिंह मेट्रो स्टेशनों पर एंट्री और एग्जिट बंद कर दिया गया था, लेकिन टिकरी बॉर्डर, बहादुरगढ़ सिटी और ब्रिगेडियर होशियार सिंह स्टेशन के एंट्री-एग्जिट खोल दिए गए.

ट्रेन परिचालन पर किसान आंदोलन का व्यापक असर

दिल्ली-चंडीगढ़, दिल्ली अमृतसर (अप-डाउन दोनों), कालका से दिल्ली आने वाली यानी टोटल 4 शताब्दी ट्रेनें कैंसल कर दी गई. नई दिल्ली, अमृतसर, चंडीगढ़, फिरोजपुर जैसे स्टेशनों पर 31 ट्रेनें खड़ी कर दी गई.

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement