Connect with us

Hi, what are you looking for?

Health/Lifestyle

Ajab Gajab: डिलीवरी के बाद महिला की बगल से निकलने लगा दूध‚ डॉक्टर भी रह गए हैरान

डॉक्टरों ने महिला की जांच की और पाया की महिला की बगल को दबाने पर उसमें से ब्रेस्ट मिल्क निकल रहा है। गहनता से जांच की गई तो पता चला कि महिला पॉलीमेस्टिया (Polymastia) नामक बीमारी से पीड़ित है। इस बीमारी में महिलाओं के शरीर में अतिरिक्त ब्रेस्ट टिशु उत्पन्न हो जाते हैं जिनसे ब्रेस्ट मिल्क निकलता है।

खबर शेयर करें

Ajab Gajab news: प्रेगनेंसी या डिलीवरी होने पर महिलाओं के शरीर में कुछ प्राकृतिक बदलाव होते हैं। इनमें ब्रेस्ट मिल्क का अपने आप उत्पन्न होना भी ऊपर वाले का चमत्कार है‚ लेकिन पुर्तगाल की एक महिला की डिलीवरी होने के बाद कुछ ऐसा हुआ कि डॉक्टर भी हैरान रह गए। दरअसल इस महिला के अंडर आर्म से भी ब्रेस्ट मिल्क निकलने लगा।

न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार महिला की डिलीवरी होने के बाद जब उसने बच्चे को ब्रेस्टफीड कराना चाहा तभी उसकी दाहिनी बगल में दर्द होने लगा। महिला ने चेक किया तो उसकी बगल से दूध निकल रहा था। घबराई महिला ने सांता मारिया अस्पताल में जांच कराने का फैसला किया।

डॉक्टरों ने महिला की जांच की और पाया की महिला की बगल को दबाने पर उसमें से ब्रेस्ट मिल्क निकल रहा है। गहनता से जांच की गई तो पता चला कि महिला पॉलीमेस्टिया (Polymastia) नामक बीमारी से पीड़ित है। इस बीमारी में महिलाओं के शरीर में अतिरिक्त ब्रेस्ट टिशु उत्पन्न हो जाते हैं जिनसे ब्रेस्ट मिल्क निकलता है।

इस संबंध में साल 1999 में छपे मायो क्लीनिक प्रोसीडिंग्स नाम के जर्नल लेख में पाया गया है कि दुनिया भर में 6% महिलाएं ऐसी होती हैं जिन्हें अतिरिक्त ब्रेस्ट टिशु होते हैं। खास बात यह है कि इन एक्स्ट्रा ब्रेस्ट टिशु के साथ निप्पल भी मौजूद होते हैं लेकिन ज्यादातर मामलों में सिर्फ ब्रेस्ट टिशु ही उत्पन्न होते हैं। लेख में यह भी लिखा गया है कि महिलाओं को इसका अंदाजा तब होता है जब वह प्रेग्नेंट होती है यह डिलीवरी के बाद बच्चों को ब्रेस्टफीड कराना शुरू करती हैं।

यह भी पढ़ें- अब सिंगल डोज में खत्म होगा Corona‚ सरकार ने दी जॉनसन एंड जॉनसन वैक्सीन को मंजूरी

ब्रेस्टफीड के दौरान ही इन टिशु से दूध निकलना शुरू हो जाता है जिसके चलते संबंधित जगह पर सूजन या दर्द की शिकायत हो सकती है। साल 2014 में जारी हुए अमेरिकन जर्नल ऑफ Roentgenology के मुताबिक, ये कंडीशन भ्रूण के विकास होने के समय ही हो जाती है। डॉक्टरों का कहना है कि इससे घबराने की कोई जरूरत नहीं है। डॉक्टर ने पुर्तगाल की इस महिला को भी इस बारे में जानकारी दी है। डॉक्टरों ने उन्हें यह भी सलाह दी कि जब वह ब्रेस्ट कैंसर का रूटीन चेकअप कर आए तब दाहिने बगल की जांच भी करा लें।

यह भी पढ़ें- बेचारगी: बाप ने किया दुष्कर्म, पति ने बनाना चाहा वेश्या, विरोध पर दिया तीन तलाक

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: