मध्य प्रदेश: इंदौर में हैवानियत को भी शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां मां के पास सो रही दो साल की मासूम बच्ची को एक ट्रक ड्राइवर उठाकर ले गया और उसके साथ दुष्कर्म की घिनौनी वारदात को अंजाम देकर घर से करीब 5 किमी दूर फेंक दिया। काफी खोजबीन के बाद मासूम को खोजकर अस्पताल ले जाया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है। डॉक्टरों ने बच्ची के साथ दुष्कर्म की पुष्टि की है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी और बच्ची के पिता एक-दूसरे को जानते हैं। 

जानकारी के अनुसार इंदौर शहर के चंदन नगर थाना क्षेत्र में एक निर्माणाधीन मकान में युवक अपने परिवार के साथ मकान के पास ही बनी टपरी में रहकर चौकीदारी का कार्य करता है। बुधवार रात को जब सब सो रहे थे, तब बच्ची का अपहरण हो गया। रात करीब दो बजे जब मां की नींद खुली तो बच्ची को पास में नहीं पाकर वह चौंक गई। बच्ची की मां ने पिता को सूचना दी और दोनो बच्ची की तलाश में जुट गए। बच्ची का कुछ पता नहीं चलने पर पिता  थक-हारकर थाने पहुंचे और पुलिस को सूचना दी।

काफी खोजबीन के बाद मासूम बच्ची द्वारकापुरी और राजेन्द्र नगर सीमा में कैट रोड पर लगने वाली रेत मंडी में बेसुध मिली  तो उसे अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने बच्ची के साथ दुष्कर्म की पुष्टि की। जिसके बाद मां बाप सहित पुलिस भी सकते में आ गई। पुलिस को बच्ची के माता-पिता से पूछताछ में पता चला कि बीती रात उनका एक परिचित ट्रक चालक दीनू उर्फ दीना (36 साल) निवासी बांक टाडा जिला धार उनसे मिलने आया था, और वह रात में ही ट्रक लेकर पीथमपुर जाने का कहकर गया था।

पुलिस ने शक के आधार पर सीसीटीवी कैमरे खंगाले तो वह रात की जगह सुबह पीथमपुर की तरफ जाता दिखाई दिया। पुलिस ने पूछताछ के लिए पीथमपुर से उसे हिरासत में लिया तो उसने अपनी करतूत का खुलासा किया। चंद घंटों में ही रेप के आरोपी को गिरफ्तार करने पर पुलिस कमिश्नर ने पुलिसकर्मियों को 30 हजार रुपये का इनाम दिया है। 

Manoj Kumar