Hariyana: BJP सरकार में खेलमंत्री संदीप सिंह ने की महिला कोच के साथ छेड़छाड़‚ मुकदमा दर्ज

हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह (फाइल फोटो) 

Haryana Politics: हरियाणा से एक बड़ी खबर सामने आयी है। यहां बीजेपी की खट्टर सरकार (Khattar government) में खेल मंत्री संदीप सिंह (Sports Minister Sandeep Singh) के खिलाफ एक महिला कोच (female coach) ने छेड़छाड़  का आरोप लगाया है।  मामला सामने आने के बाद संदीप सिंह के खिलाफ चंडीगढ़ के सेक्टर 26 पुलिस स्टेशन में एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली गई है। दूसरी ओर खेल मंत्री पर छेड़छाड़ आरोप लगने के बाद विपक्ष बीजेपी पर हमलावर हो गया है। कांग्रेस ने मंत्री के इस्तीफे की मांग की है। 

मंत्री ने दिया पद से इस्तीफा

हंगामा मचने के बाद खेल मंत्री संदीप सिंह ने अपने पद से इस्तीफ दे दिया है।  इस मामले में हरियाणा के डीजीपी ने खेल मंत्री के खिलाफ जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है।  इस टीम में आईपीएस ममता सिंह और समर प्रताप सिंह के साथ एचसीपी राजकुमार कौशिक को शामिल किया गया है। DGP ने एसआईटी को निर्देश दिया है कि वह महिला कोच द्वारा लगाए गए सभी आरोपों की बिंदुवार जांच करें और जल्द ही मामले की रिपोर्ट सौंपे।

सरकारी आवास पर महिला कोच को बुलाकर की छेड़छाड़

महिला कोच ने खेल मंत्री संदीप सिंह पर आरोप लगाते हुए बताया कि मंत्री ने पहले इंस्टाग्राम पर उससे संपर्क किया। इसके बाद कुछ डाक्यूमेंट्स देखने के लि बहाने उसे अपने सरकारी आवास पर बुलाया।  महिला कोच के अनुसार इसी दौरान मंत्री संदीप सिंह ने उसके साथ छेड़छाड़ की।  महिला कोच ने यह भी आरोप लगाया कि मंत्री ने अपनी बात मनवाने के लिए उसे मनपसंद पोस्टिंग और दूसरी सुविधाओं का लालच दिया।

बात नही मानी तो करा दिया ट्रांस्फर

लेडी कोच ने मंत्री की बात मानने से इंकार कर दिया। इसके वजह से मंत्री के इशारे पर महिला कोच का ट्रांसफर कर दिया गया।  इसके अलावा उनकी ट्रेनिंग भी बंद करवा दी गई।  हैरानी की बात यह है कि महिला कोच ने इस मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री और दूसरे मंत्रियों से भी मदद की गुहार लगाई लेकिन किसी ने भी कोई एक्शन नहीं लिया।

घटना सामने आने के बाद विपक्ष पूरी तरह से बीजेपी पर हमलावर हो गया है।  दूसरी और अपने ऊपर लगे आरोपो को संदीप सिंह ने बेबुनियाद बताया है।  उन्होंने कहा है कि जूनियर कोच ने मुझ पर झूठे आरोप लगाए हैं। यह मेरे खिलाफ साजिश रची जा रही है।  उन्होंने कहा कि मैं उस महिला कोच से कभी मिला भी नहीं हूं।