Connect with us

Hi, what are you looking for?

मनोरंजन

तीसरे दिन साेनू सूद के 6 ठिकानों पर आयकर की छापेमारी‚ शिवसेना ने कहा केजरीवाल से मिलने के कारण BJP ने की कार्रवाई

तीसरे द‍िन सोनू सूद के घर और दफ्तर पर इनकम टैक्‍स व‍िभाग ने कार्रवाई की है. ये देरी इसल‍िए हुई है क्‍योंकि उनका अकाउंटेंट यात्रा कर रहा था. सोनू पर ये कार्रवाई बुधवार से शुरू हुई है और मुंबई और लखनऊ की 6 संपत्त‍ियों की जांच की गई है.

खबर शेयर करें

सोनू सूद (Sonu Sood) के घर और दफ्तर समेत 6 ठिकानों पर आयकर विभाग (Income Tax Raids) ने लगातार तीसरे द‍िन छापामार कार्रवाई की है. सूत्रों ने दावा क‍िया है कि व‍िभाग को इस छापेमारी में टैक्‍स की हेराफेरी (Tax Evasion) के पुख्‍ता सबूत म‍िले हैं. ये टैक्‍स की हेरफेर सोनू सूद के पर्सनल फाइनेंस से जुड़ी हुई है.

सूत्रों से म‍िली जानकारी के अनुसार अपनी फिल्‍मों से म‍िली फीस में टैक्‍स की गड़बड़ी देखी गई है. इन अन‍ियम‍ित्ताओं के बाद अब इनकम टैक्‍स व‍िभाग सोनू सूद की चैर‍िटी फाउंडेशन (Sood Sood Foundation) के अकाउंट्स की जांच भी करेगी. खबर है क‍ि इनकम टैक्‍स व‍िभाग इस मामले से जुड़े सारे सवालों की जानकारी देने के लिए आज शाम प्रेस कॉन्‍फरेंस कर सकता है.

आज तीसरे द‍िन सोनू सूद के घर और दफ्तर पर इनकम टैक्‍स व‍िभाग ने कार्रवाई की है. ये देरी इसल‍िए हुई है क्‍योंकि उनका अकाउंटेंट यात्रा कर रहा था. सोनू पर ये कार्रवाई बुधवार से शुरू हुई है और मुंबई और लखनऊ की 6 संपत्त‍ियों की जांच की गई है. सूत्रों का दावा है कि उन्‍हें सोनू के अकाउंट्स में भारी टैक्‍स की हेरफेर के सबूत म‍िले हैं. बता दें कि कोरोना काल में सोनू सूद ने कई जरूरतमंद लोगों की मदद की थी. अपनी इस मदद की वजह से एक्‍टर मसीहा के रुप में फेमस हो गए हैं. एक्टर के मुंबई वाले घर और दफ्तर पर आयकर विभाग (Income Tax) की छापेमारी के बाद एक बार फिर चर्चा में आ गए हैं.

सोनू पर हुई इस कार्रवाई पर शिवसेना (Shivsena) ने पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में संपादकीय के जरिए इसे केंद्र सरकार द्वारा ‘खुन्नस निकालने’ वाली बात बताया है. इसके अलावा पार्टी ने अभिनेता पर हुई कार्रवाई की आड़ में महाराष्ट्र के मंत्रियों के खिलाफ जारी जांच एजेंसियों की कार्रवाई पर भी सवाल उठाए हैं

शिवसेना ने आरोप लगाया है कि सूद के विपक्षी दलों की सरकार के साथ जुड़ने के कारण ये कार्रवाई हुई. संपादकीय के अनुसार, ‘…सोनू सूद को कंधे पर बैठानेवालों में भाजपा आगे थी. सोनू सूद अपना ही आदमी है, ऐसा उनकी ओर से बार-बार याद दिलाया जा रहा था. परंतु इस सोनू महाशय द्वारा दिल्ली में केजरीवाल सरकार के शैक्षणिक कार्यक्रम के ‘ब्रांड अंबेसडर’ की हैसियत से सामाजिक कार्य करने का निर्णय लेते ही उस पर आयकर विभाग के छापे पड़ गए.’

खबर शेयर करें
Click to comment

Leave a Reply

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Copyright ©2020- Aankhon Dekhi News Digital media Limited. ताजा खबरों के लिए लोगो पर क्लिक करके पेज काे रिफ्रेश करें और सब्सक्राइब करें।

%d bloggers like this: