UP: 8वीं क्लास की छात्रा पर आया 47 वर्षीय शिक्षक का दिल‚ लिख दिया Love Letter

Demo pick

कन्नौज। सरकारी स्कूल (government school) के शिक्षक का आठवीं क्लास की छात्रा (eighth grade student) पर दिल आ गया तो मास्टर जी ने गुरू पद की गरिमा को कलंकित करते हुए छात्रा को लव लेटर (love letter) लिख डाला। शिक्षक द्वारा लिखे गये प्रेम पत्र को देखकर छात्रा डर गई और उसने वह पत्र अपने परिजनों को दे दिया। पीड़िता के पिता की शिकायत पर आरोपी शिक्षक के खिलाफ बीएसए ने जांच बैठा दी है।

यह भी पढ़ें- अमरोहा: खाकी वर्दी पहन रौब दिखाकर ठगी करने वाला नकली दरोगा गिरफ्तार, भेजा जेल

यह शर्मनाक घटना यूपी कन्नौज जनपद के थाना सदर कोतवाली इलाके के एक गांव की है। यहां प्राथमिक विद्यालय और जूनियर हाईस्कूल एक ही परिसर में हैं। बताया जा रहा है कि यहां प्राथमिक विद्यालय में तैनात एक 47 वर्षीय शिक्षक का अपने ही स्कूल की आठवी की छात्रां दिल आ गया। उम्र की आधी सीमा पार कर चुके गुरू यहीं नही रूके और उन्हाेने प्यार का इजहार कते हुए छात्रा को एक लव लेटर लिख दिया।

यह लिखा लव लेटर

शिक्षक ने छात्रा को लिखा कि मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं। छुट्टियों में आपकी याद आया करेगी, हम आपको बहुत मिस करेंगे। इससे आगे शिक्षक ने लिखा कि छुट्टियों से पहले एक बार जरूर आना। अगर सुबह आठ बजे स्कूल बुलाये तो आ सकती है क्या? अगर आ सकती हो तो बता देना। दोनों बैठकर एक-दूसरे से बात करेंगे। शिक्षक ने पत्र के अंत में लिखा कि पत्र को पढ़कर फाड देना किसी को दिखाना मत।

यह भी पढ़ें- MEERUT: किशोरी का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म

हालांकि शिक्षक द्वारा लिखे गये प्रेम पत्र को देखकर छात्रा डर गई और उसने वह पत्र अपने परिजनों को दे दिया। शिक्षक की इस करतूत को देखकर परिजनो के पैरो तले की जमीन खिसक गई। मामले बच्ची की पिता की ओर से थाने में तहरीर दी गइ है। पीड़िता के पिता ने थाने पर जाकर तहरीर देते हुए कहा कि 47 वर्षीय शिक्षक उसकी बेटी को परेशान कर रहा है।  उन्होंने बताया कि जब इस मामले को लेकर शिक्षक से वार्ता की गई तो शिक्षक ने धमकी देते कहा कि छात्रा को किडनैप कर लेंगे।

BSA ने बैठाई जांच

बीएसए ने खंड शिक्षा अधिकारी की अगुवाई में एक टीम का गठन किया, जिन्होंने मामले की जांच शुरू कर दी गई। पुलिस से भी अनुरोध किया गया है कि लव लेटर में लिखी गई लिखावट और शिक्षक की लिखावट का मिलान किया जाये। अगर यह बात सही साबित होती है तो आरोपी शिक्षक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जायेगी।