फोटो साभार सोशल मीडिया

नई दिल्ली: संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा परीक्षा (UPSC Civil Service Exam) को सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक माना जाता है और छात्र कई वर्षों से इसकी तैयारी करते हैं। हालांकि कुछ उम्मीदवार ऐसे भी होते हैं जो अलग-अलग रणनीति और कड़ी मेहनत के कारण पहले प्रयास में ही सफलता हासिल कर लेते हैं। ऐसी ही एक कहानी है उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) के प्रयागराज(Prayagraj) की रहने वाली अनन्या सिंह(Ananya Singh) की, जिन्होंने महज एक साल की तैयारी के साथ यूपीएससी(UPSC) की परीक्षा पास की और पहले ही प्रयास में आईएएस ऑफिसर(IAS officer) बन गईं।

10वीं-12वीं में रहीं डिस्ट्रिक्ट टॉपर
अनन्या सिंह शुरू से ही पढ़ाई में काफी अच्छी थीं और उन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई प्रयागराज के सेंट मैरी कॉन्वेंट स्कूल से की। उसने 10वीं में 96 फीसदी अंक हासिल किए थे, जबकि 12वीं में उसे 98.25 फीसदी अंक मिले थे. अनन्या दसवीं और बारहवीं कक्षा में सीआईएससीई बोर्ड से डिस्ट्रिक्ट टॉपर थी। 12वीं के बाद अनन्या ने दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से इकोनॉमिक्स ऑनर्स में ग्रेजुएशन किया।

रोजाना करती थीं 7-8 घंटे पढ़ाई

फोटो साभार सोशल मीडिया

अनन्या सिंह बचपन से ही आईएएस अधिकारी बनना चाहती थीं और इसलिए स्नातक के अंतिम वर्ष में उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी। शुरुआत में अनन्या दिन में 7-8 घंटे पढ़ाई करती थीं, लेकिन बेस मजबूत होने के बाद उन्होंने पढ़ाई के लिए 6 घंटे तय किए। एक साल तक अनन्या ने खूब मेहनत की।

ऐसे की यूपीएससी एग्जाम की तैयारी
डीएनए की रिपोर्ट के मुताबिक अनन्या सिंह ने टाइम-टेबल बनाकर यूपीएससी परीक्षा की तैयारी की. शुरुआत में उन्होंने प्री और मेन्स परीक्षा की तैयारी एक साथ की। अनन्या का कहना है कि प्री और मेन्स परीक्षा से पहले का समय बहुत कठिन होता है और इस दौरान वास्तव में कड़ी मेहनत करनी चाहिए। अनन्या ने बताया कि तैयारी शुरू करने के लिए उन्होंने सबसे पहले किताबों की लिस्ट तैयार की और सिलेबस के हिसाब से किताबें जमा कीं. इसके साथ ही जरूरत के हिसाब से हैंड नोट्स बनाएं। नोट्स के दो फायदे थे, एक यह था कि वे छोटे और कुरकुरे थे, जिसके कारण यह तैयारी और रिवीजन में बहुत उपयोगी थे। साथ ही नोट्स लिखने की वजह से दिमाग में जवाब दर्ज हो गए।

फोटो साभार सोशल मीडिया

पहले प्रयास में ही मिली सफलता
अनन्या सिंह ने यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा की सिर्फ एक साल की तैयारी की और पहले ही प्रयास में सफलता हासिल कर ली। उन्होंने साल 2019 में ऑल इंडिया में 51वां रैंक हासिल किया और आईएएस बनने के अपने सपने को पूरा किया। फिलहाल अनन्या की पोस्टिंग आईएएस ऑफिसर के तौर पर पश्चिम बंगाल में है।

अनन्या सिंह की फैमिली
अनन्या सिंह के पिता पूर्व जिला न्यायाधीश हैं और उनकी मां अंजलि सिंह आईईआरटी में वरिष्ठ व्याख्याता हैं। उनके बड़े भाई ऐश्वर्या प्रताप सिंह कानपुर में मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के पद पर तैनात हैं। इसके अलावा अनन्या की भाभी ज्योत्सना भी कानपुर में मजिस्ट्रेट हैं।

फोटो साभार सोशल मीडिया

यूपीएससी एस्पिरेंट्स को सलाह
अनन्या सिंह यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कर रहे उम्मीदवारों को सलाह देती हैं कि वे पिछले साल के प्रश्नपत्रों को देखें और रिवीजन पर ध्यान दें। वह कहती है कि आपको पिछले वर्ष के जितने हो सके उतने प्रश्नपत्र देखने चाहिए, क्योंकि कभी-कभी कुछ विषयों में प्रश्न दोहराए जाते हैं। इसके साथ ही वह कहती हैं कि आपने जो पढ़ा है उसका रिवीजन करना भी बहुत जरूरी है। अनन्या कहती हैं कि परीक्षा की तैयारी के दौरान कभी भी पेपर पढ़ना बंद न करें और इंटरव्यू से पहले भी उसे पढ़ते रहें, क्योंकि इससे बहुत मदद मिलती है।

यह भी पढें-Pooja Yadav IPS: ये हैं देश की सबसे ज्यादा खूबसूरत महिला IPS अफसर, देेखे तस्वीरें

Bharti Sharma

Bharti Sharma

Next Story